1. हिन्दी समाचार
  2. आपकी जिंदगी में ये बदलाव लाएगा लॉकडाऊन 4.0, रियायतों के बीच करना होगा बंदिशों का पालन

आपकी जिंदगी में ये बदलाव लाएगा लॉकडाऊन 4.0, रियायतों के बीच करना होगा बंदिशों का पालन

Lockdown 4 0 Will Bring Changes In Your Life You Have To Follow Restrictions Between Concessions

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से बचाव के लिए देशभर में लागू किए गए लॉकडाऊन का चौथा चरण शुरू होने वाला है। इस लॉकडाऊन को नए रंग रूप, नए नियमों व छूट के साथ लागू किया जा रहा है। हालांकि आधिकारिक रूप से इन नियमों व छूट को लेकर कोई घोषणा नहीं की गई है लेकिन कयासों की बात करें तो इस लॉकडाउन में पहले से ज्यादा छूट मिलेगी। जैसे कि रेल सेवाओं के साथ कुछ घरेलू उड़ानें भी शुरू हो सकती हैं।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली बवालः दिल्ली पुलिस कमिश्नर बोले-हिंसा में शामिल किसी को नहीं छोड़ा जायेगा

सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार ग्रीन, ऑरेंज और रेड जोन तय करने का अधिकार राज्यों को दे सकती है। हो सकता है कि पब्लिक ट्रांसपोर्ट को शर्तों के साथ इजाजत संभव हो जाए। इसके अलावा ऑटो रिक्शा और कैब एग्रीगेटरों को शर्तों के साथ इजाजत दी जा सकती है। उन्हें अधिकतम 2 यात्रियों को बैठाने की अनुमति दी जा सकती है। साथ ही घरेलू उड़ानों को भी मंजूरी दी जा सकती है बशर्ते कि जहां से फ्लाइट जानी हो और जिस जगह पर उसे पहुंचनी है, वे दोनों संबंधित राज्य इसके लिए राजी हों। केंद्र तो सभी घरेलू उड़ानों को शुरू करना चाहता है लेकिन कई राज्य इसके विरोध में हैं।

लॉकडाऊन 4.0 को लेकर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने विभिन्न अधिकारियों के साथ बैठक की। करीब 5 घंटे चली लंबी बैठक में लॉकडाऊन 4.0 की रियायतों पर चर्चा हुई। बैठक में मौजूद एक अधिकारी ने बताया कि ग्रीन जोन पूरी तरह से खुल जाएगा। ऑरेंज जोन में पाबंदियां बेहद कम होंगी। सख्ती सिर्फ कंटेनमेंट जोन तक सीमित रहेगी। इसके अलावा रेड जोन में भी सैलून, नाई और चश्मे की दुकानों को छूट मिल सकती है।

ट्रेन, बस और मेट्रो सेवाएं शुरू हो सकती है। दुकानों की बात करें तो उन्हें खुलवाने के लिए ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू हो सकता है। हालांकि फैक्ट्रियों के लिए राज्य सरकारों को यह सुनिश्चित करना होगा कि कोरोना से एहतियात के लिए यहां सारे इंतजाम किए गए हों। इसके अलावा हार्डवेयर की दुकानें और बाइक रिपयेरिंग की दुकानें भी खोले जाने के आसार हैं।

गृह मंत्रालय के एक आधिकारी के मुताबिक, हर किसी को सोशल डिस्टेंसिंग और साफ-सफाई का ध्यान रखना होगा और सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करना होगा। इससे लोगों को संक्रमण से बचाव में आसानी होगी और साथ ही आरोग्य सेतु ऐप के जरिए लोगों के स्वास्थ्य को लेकर बेहतर व्यवस्था की जा सकेगी। मेट्रो में क्यूआर कोड लागू करने और एंट्री गेट पर आरोग्य सेतु ऐप जांचने की प्लानिंग बन रही है।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैलीः कांग्रेस का आरोप, उपद्रवियों को छोड़ संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं पर दर्ज हो रहा मुकदमा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...