1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी में 10 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, सोमवार तक लागू रहेंगी पाबंदियां

यूपी में 10 मई तक बढ़ाया गया लॉकडाउन, सोमवार तक लागू रहेंगी पाबंदियां

यूपी में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कहर को देखते हुए लॉकडाउन 10 मई तक बढ़ाया दिया गया है। योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब सोमवार तक पाबंदियां लागू रहेंगी। प्रदेश में कोरोना के कारण बने गंभीर हालात को देखते हुए योगी सरकार ने लॉकडाउन अभी तक गुरुवार सुबह सात बजे तक ही बंद की घोषणा की गई थी पर स्थिति को मद्देनजर रखते हुए सोमवार तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Lockdown Extended In Up Till May 10 Restrictions Will Remain In Force Till Monday

लखनऊ। यूपी में कोरोना महामारी की दूसरी लहर के कहर को देखते हुए लॉकडाउन 10 मई तक बढ़ाया दिया गया है। योगी सरकार के इस फैसले के बाद अब सोमवार तक पाबंदियां लागू रहेंगी। प्रदेश में कोरोना के कारण बने गंभीर हालात को देखते हुए योगी सरकार ने लॉकडाउन अभी तक गुरुवार सुबह सात बजे तक ही बंद की घोषणा की गई थी पर स्थिति को मद्देनजर रखते हुए सोमवार तक लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। ये आदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टीम-9 के साथ हुई बैठक मेंं दिए।

पढ़ें :- कोरोना महामारी के खात्मे के लिए वैक्सीनेशन ही है एक मात्र उपाय : राहुल गांधी

बता दें कि 29 अप्रैल को योगी सरकार ने प्रदेश में शुक्रवार शाम आठ बजे से मंगलवार सुबह सात बजे तक लॉकडाउन करने का निर्णय लिया था और फिर तीन मई को दो दिनों के लिए इसे और बढ़ा कर गुरुवार सुबह सात बजे तक कर दिया। इसके बाद आज मतलब बुधवार को इसकी मियाद सोमवार सुबह सात बजे तक कर दी है।

इसके साथ ही प्रदेश सरकार ने मॉस्क न पहनने वालों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। बिना मास्क के बाहर निकलने वालों पर पहली बार एक हजार रुपये जुर्माना लिया जाएगा। दूसरी बार 10 गुना ज्यादा जुर्माना देना होगा। प्रदेश सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए।

कोरोना कंट्रोल करने के लिए पीजीआई निदेशक की अध्यक्षता में बनी सलाहकार समिति

योगी सरकार ने कोरोना संक्रमण की प्रभावी रोकथाम और उसके समुचित उपचार के लिए चिकित्सा विशेषज्ञों की एक सलाहकार समिति गठित की। लखनऊ एसजीपीजीआई के निदेशक डा.आर.के.धीमान की अध्यक्षता में गठित इस सलाहकार समिति में अध्यक्ष समेत कुल 14 सदस्य शामिल हैं। चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार की ओर से जारी आदेश के अनुसार इस समिति के संयोजक प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण विभाग के महानिदेशक होंगे।

पढ़ें :- जियो का बड़ा ऐलान : अब बिना रिचार्ज ग्राहकों को 300 मिनट मुफ्त आउटगोइंग कॉल सुविधा

मुख्यमंत्री योगी ने अफसरों संग बैठक में कहा कि कोविड का वर्तमान स्ट्रेन लगातार रूप बदल रहा है। यह पहली लहर की तुलना में 30 से 50 गुना अधिक संक्रामक है। कुछ केस में देखा गया है कि कोविड टेस्ट में भी इसकी पुष्टि नहीं हो रही है, जबकि सी टी स्कैन में पता लग रहा कि लंग्स कोविड से प्रभावित है। ऐसे में हमें और सतर्कता के साथ काम करने की जरूरत है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X