1. हिन्दी समाचार
  2. लॉकडाउन: सिर्फ दो बराती लेकर पहुंचा दूल्हा, मास्क पहनकर हुए फेरे, जानें पूरा मामला

लॉकडाउन: सिर्फ दो बराती लेकर पहुंचा दूल्हा, मास्क पहनकर हुए फेरे, जानें पूरा मामला

Lockdown The Groom Arrived With Only Two Baratis Walked Around Wearing A Mask Know The Whole Matter

By बलराम सिंह 
Updated Date

लखनऊ। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन चल रहा है। इस बीच यूपी के अलीगढ़ में लॉकडाउन के बीच बुधवार को आर्य समाज मंदिर में सादगी के साथ एक शादी हुई। दूल्हा सिर्फ दो बराती लेकर पहुंचा था। लड़की पक्ष के भी दो लोग भी मौजूद थे। मास्क पहनकर दूल्हा और दूल्हन ने फेरे लिए। इसके बाद दुल्हन की विदाई हुई। दोनों परिवारों को कहना था कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद कार्यक्रम का आयोजन करेंगे।

पढ़ें :- सोनौली:कोतवाली के बगल में बना दिया कूड़ा घर,आस-पास के लोगो का जीना हुआ दुश्वार

जानकारी के मुताबिक अंकित वशिष्ठ पुत्र स्व. बृजेश चंद्र शर्मा निवासी सासनीगेट की शादी बिहारी नगर निवासी नेत्रपाल शर्मा की बेटी मोहिनी के साथ आठ अप्रैल को तय हुई थी। शादी के कार्ड बंट गए थे। इसके साथ ही वैवाहिक कार्यक्रम के लिए कलावती गेस्ट हाउस बुक कर लिया गया था। हालांकि लॉकडाउन के चलते सारे काम अटक गए। अंकित के बहनोई गौरव ने कहा कि पंडित ने बताया कि इसके बाद शादी का अगले दो साल तक कोई मुहुर्त नहीं था।

इसलिए दोनों परिवारों की सहमति से अचल रोड स्थित आर्य समाज मंदिर में शादी करने पर विचार किया गया। इसके लिए मंदिर कमेटी से तीन दिन पहले अनुमति ली गई। तय हुआ कि दोनों पक्षों से सिर्फ चार लोग आएंगे। साथ ही लॉकडाउन के नियमों का पालन करेंगे। इसी क्रम में अंकित की तरफ से उनकी बहन पूजा व भाई विवेक आए, जबकि मोहिनी की ओर से उनकी माता अनीता शर्मा व पिता नेत्रपाल शर्मा आए। चारों के आधार कार्ड जमा किए गए।

बुधवार सुबह नौ बजे मंदिर कमेटी के सहयोग से शादी हुई। इस दौरान दूल्हा-दुल्हन ने मास्क भी पहना। जरूरत पडऩे पर मास्क हटाना पड़ा। शादी के फेरे भी हुए। साथ आए लोग भी मास्क पहनकर शारीरिक दूरी बनाते हुए बैठे थे। करीब 12 बजे विदाई हुई और दोनों पक्ष अपने अपने घर लौट गए। गौरव का कहना है कि लॉकडाउन के सारे नियमों का पालन किया है। जब लॉकडाउन खत्म हो जाएगा, तो एक कार्यक्रम आयोजित बाकी रस्म अदा करेंगे।

वहीं, इंस्पेक्टर गांधीपार्क सुधीर पाल धामा का कहना है कि सूचना पर पुलिस पहुंची थी। शादी के दौरान लॉकडाउन के नियमों का पालन किया जा रहा था। परिवार ने इसकी अनुमति भी ले रखी थी। हिदायत दी कि शारीरिक दूरी का पालन करें। इसके बाद पुलिस लौट गई। एडीएम सिटी राकेश मालपाणी ने बताया कि यह पता लगाया जा रहा है कि शारीरिक दूरी के निर्देश का पालन किया या नहीं। यदि पालन नहीं किया होगा तो कार्रवाई होगी।

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...