खतरे में भारत-न्यूज़ीलैंड सीरीज, नाराज़ बीसीसीआई ने दौरा रद्द करने का किया फ़ैसला

नई दिल्ली| लोढ़ा समिति द्वारा बीसीसीआई के बैंक खातों को फ्रीज करने की सिफारिश के बाद बीसीसीआई ने न्यूज़ीलैंड का मौजूदा दौरा रद्द करने का फ़ैसला किया है| दौरे के तीन में से दो टेस्ट हो चुके हैं और पांच वनडे खेले जाने हैं|




बोर्ड के एक सीनियर अधिकारी ने कहा कि हम मजबूरी में यह कदम उठा रहे हैं| इसके आलावा हमारे पास और कोई चारा नहीं है| अधिकारी ने कहा कि हमारे बैंकों ने हमारे खाते फ़्रीज़ करने का फ़ैसला किया है| हम नहीं चाहते कि दुनिया के सामने भारत की बदनामी हो| हम काम कैसे कर सकते हैं| अब हम खेलों का आयोजन कैसे करें? भुगतान कौन करेगा? एक अंतरराष्ट्रीय टीम यहां आई हुई है और बहुत कुछ दांव पर लगा हुआ है| उन्होंने कहा कि न्यूज़ीलैंड दौरा रद्द करना ही अब हमारे पास आखिरी विकल्प है|

बोर्ड ने ये फ़ैसला उस दिन किया जिस दिन लोढा समिति ने बैंको को लिखकर बीसीसीआई के खाते बंद करने का आग्रह किया| समिति ने पत्र में लिखा है, “उन्हें पता चला है कि 30 सितंबर 2016 को बोर्ड ने एक आपात बैठक में विभिन्न सदस्य एसोसिएशन को मोटी रकम मुहैया कराने का फ़ैसला किया है| पत्र में आगे लिखा है “सुप्रीम कोर्ट को गुरुवार को स्टेटस रिपोर्ट पर सुनवाई के बाद निर्देश जारी करने हैं इसलिए आपको (बैंक) निर्देश दिया जाता है कि खाते से कोई पैसा नहीं निकलना चाहिये| इस निर्देश के उल्लंघन की स्थिति में इसकी सूचना समुचित कार्रवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट को दी जाएगी|”

उधर, दौरा रद्द होने की खबर के बीच न्यूज़ीलैंड टीम के प्रवक्ता का बयान आया है| प्रवक्ता ने कहा है कि बीसीसीआई ने उनसे इस बारे में अभी कोई भी बात नहीं की है| न्यूज़ीलैंड क्रिकेट की ओर से इस पूरे मामले में कहा गया, “हम भारत और न्यूज़ीलैंड सीरीज़ रद्द होने के बारे में पहली बार सुन रहे हैं| फिलहाल हम इंदौर में खेले जाने वाले तीसरे टेस्ट की तैयारी में लगे हुए हैं|



Loading...