बत्तमीज-ए-आजम: मीडिया के सवाल पर भड़के, बोले- ‘आपकी वालिद की मौत में आया था’

azam khan
बत्तमीज-ए-आजम: मीडिया के सवाल पर भड़के, बोले- 'आपकी वालिद की मौत में आया था'

लखनऊ। विवादित बयानों के बादशाह समाजवादी पार्टी के वरिष्ट नेता आजम खां की बदजुबानी जगजाहिर है। रामपुर से भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा पर आपत्तीजनक और अभद्र टिप्पड़ी करने वाले आजम खां ने आज मीडिया को भी नहीं बख्शा। जब मीडिया ने उनसे जया प्रदा को लेकर सवाल पूछा तो तिलमिलाये आजम खां ने कहा, “हम यहां आपकी वालिद की मौत में आये हैं।”

Lok Sabha Chunav 2019 Azam Khan Again Gave Controversial Statements :

आपको बताते चलें कि आजम खां की जया प्रदा पर की गयी अमर्यादित टिप्पड़ी के बाद उनका चारों तरफ विरोध शुरू हो गया है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग ने उन्हे नोटिस भी जारी कर दिया है। हालांकि इस मामले में चुनाव आयोग के आदेश पर मुकदमा दर्ज हो चुका है, लेकिन इसके बावजूद आजम खां विवादों में फंसते चले जा रहे हैं।

जया प्रदा पर की अभद्र टिप्पड़ी

आजम खां ने जया प्रदा का नाम लिए बगैर एक जनसभा में कहा था, “क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। क्या आप उसे वोट देंगे?” आजम ने आगे कहा कि आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरविअर खाकी रंग का है।

लखनऊ। विवादित बयानों के बादशाह समाजवादी पार्टी के वरिष्ट नेता आजम खां की बदजुबानी जगजाहिर है। रामपुर से भाजपा प्रत्याशी जया प्रदा पर आपत्तीजनक और अभद्र टिप्पड़ी करने वाले आजम खां ने आज मीडिया को भी नहीं बख्शा। जब मीडिया ने उनसे जया प्रदा को लेकर सवाल पूछा तो तिलमिलाये आजम खां ने कहा, "हम यहां आपकी वालिद की मौत में आये हैं।"

आपको बताते चलें कि आजम खां की जया प्रदा पर की गयी अमर्यादित टिप्पड़ी के बाद उनका चारों तरफ विरोध शुरू हो गया है। वहीं राष्ट्रीय महिला आयोग ने उन्हे नोटिस भी जारी कर दिया है। हालांकि इस मामले में चुनाव आयोग के आदेश पर मुकदमा दर्ज हो चुका है, लेकिन इसके बावजूद आजम खां विवादों में फंसते चले जा रहे हैं।

https://www.youtube.com/watch?v=wgS5oAPjfrk

जया प्रदा पर की अभद्र टिप्पड़ी

आजम खां ने जया प्रदा का नाम लिए बगैर एक जनसभा में कहा था, "क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। क्या आप उसे वोट देंगे?" आजम ने आगे कहा कि आपने 10 साल जिनसे अपना प्रतिनिधित्व कराया, उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, मैं 17 दिन में पहचान गया कि इनके नीचे का अंडरविअर खाकी रंग का है।