नरेंद्र मोदी सत्ता में लौटे तो राहुल गांधी होंगे जिम्मेदार: अरविंद केजरीवाल

arvind
नरेंद्र मोदी सत्ता में लौटे तो राहुल गांधी होंगे जिम्मेदार: अरविंद केजरीवाल

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के चुनाव से पहले दिल्ली में सियासी सरगर्मी अपने चरम पर है। आप और भाजपा के बीच जुबानी जंग छिड़ी हुई है। इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर केंद्र में बीजेपी दोबारा आई तो इसके लिए राहुल गांधी जिम्मेदार होंगे।

Lok Sabha Chunav 2019 If Modi Backs To Power Rahul Gandhi Will Responsible Says Kejriwal :

केजरीवाल ने कहा, “कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा, केरल में वाम दल, पश्चिम बंगाल में तृणमूल, आंध्र प्रदेश में टीडीपी और दिल्ली में आप को नुकसान पहुंचा रही है। अगर नरेंद्र मोदी सत्ता में लौटे तो इसके जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ राहुल गांधी होंगे। उन्होंने कहा, “ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस बीजेपी के खिलाफ नहीं बल्कि विपक्षी पार्टियों के खिलाफ चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस काम बिगाड़ने का काम कर रही है।”

इससे पहले आज सुबह उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि देशवासियों, वोट देते वक़्त सोचना। अगर मोदी जी दोबारा आ गए तो अमित शाह गृह मंत्री होंगे। जिस देश का गृह मंत्री अमित शाह हो, उस देश का क्या होगा, ये सोच के वोट डालना।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के चुनाव से पहले दिल्ली में सियासी सरगर्मी अपने चरम पर है। आप और भाजपा के बीच जुबानी जंग छिड़ी हुई है। इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर केंद्र में बीजेपी दोबारा आई तो इसके लिए राहुल गांधी जिम्मेदार होंगे। केजरीवाल ने कहा, "कांग्रेस उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा, केरल में वाम दल, पश्चिम बंगाल में तृणमूल, आंध्र प्रदेश में टीडीपी और दिल्ली में आप को नुकसान पहुंचा रही है। अगर नरेंद्र मोदी सत्ता में लौटे तो इसके जिम्मेदार सिर्फ और सिर्फ राहुल गांधी होंगे। उन्होंने कहा, "ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस बीजेपी के खिलाफ नहीं बल्कि विपक्षी पार्टियों के खिलाफ चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस काम बिगाड़ने का काम कर रही है।" इससे पहले आज सुबह उन्होंने ट्वीट कर कहा था कि देशवासियों, वोट देते वक़्त सोचना। अगर मोदी जी दोबारा आ गए तो अमित शाह गृह मंत्री होंगे। जिस देश का गृह मंत्री अमित शाह हो, उस देश का क्या होगा, ये सोच के वोट डालना।