बंगाल में मतदान के दौरान फिर हिंसा, कई जगह भिड़े कार्यकर्ता

d

पश्चिम बंगाल। रविवार को बंगाल के भाटपाड़ा विधानसभा क्षेत्र में वोटिंग शुरू होने से पहले ही हिंसा भड़कने की खबरें आने लगीं। यहां कथित रूप से कई गाडिय़ों में आग लगा दी गई और बम भी फेंके जाने की सूचना है। भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि इन आगजनी की घटनाओं को उनके कार्यकर्ताओं ने ही अंजाम दिया है।

Lok Sabha Chunav 2019 Violence Starts Before 7th Phase Poll Begins In Bengal :

इसके साथ ही बारासात लोकसभा क्षेत्र के न्यू टाउन में भी हिंसा की घटनाएं सामने आई हैं। खबर है कि कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस के पार्षद सुभाष बोस को हिरासत में ले लिया गया हैए और बिधाननगर में भाजपा नेता अनुपम दत्ता को भी नजरबंद किया गया है।

मतदान के दौरान आ रही हिंसा की खबरों के बीच बसीरहाट के मतदान केंद्र संख्या 189 के बाहर मतदाता हंगामा करने लगे। उनका आरोप था कि टीएमसी के कार्यकर्ता उन्हें वोट नहीं डालने दे रहे। बसीरहाट से भाजपा उम्मीदवार सायंतन बसु ने कहा कि 100 लोगों को वोट डालने से रोका गया।

हमलोग उन्हें वोट कराने ले जा रहे हैं। गौरतलब है कि सातवें चरण के मतदान के तहत पश्चिम बंगाल की 9 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है। इसमें कोलकाता उत्तर, कोलकाता दक्षिण, दमदम, बारासात, बशीरहाट,जाधवपुर, डायमंड हार्बर, जयनगर और मथुरापुर संसदीय सीटों के नाम शामिल हैं।

पहले चरण से अब तक हर बार यहां मतदान के दौरान भाजपा और तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई है। सातवें चरण के मतदान के लिए चल रहे चुनाव प्रचार के दौरन भी कई घटनाओं को अंजाम दिया गया।

कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली के दौरान कई जगह हिंसा और आगजनी की खबरें आईं थीं। इन्हीं हिंसक घटनाओं को देखते हुए सातवें चरण के लिए निर्धारित समय से 20 घंटे पहले ही चुनाव प्रचार पर रोक लगा दिया गया था। आज अंतिम चरण में भी ये घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं।

पश्चिम बंगाल। रविवार को बंगाल के भाटपाड़ा विधानसभा क्षेत्र में वोटिंग शुरू होने से पहले ही हिंसा भड़कने की खबरें आने लगीं। यहां कथित रूप से कई गाडिय़ों में आग लगा दी गई और बम भी फेंके जाने की सूचना है। भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि इन आगजनी की घटनाओं को उनके कार्यकर्ताओं ने ही अंजाम दिया है। इसके साथ ही बारासात लोकसभा क्षेत्र के न्यू टाउन में भी हिंसा की घटनाएं सामने आई हैं। खबर है कि कोलकाता में तृणमूल कांग्रेस के पार्षद सुभाष बोस को हिरासत में ले लिया गया हैए और बिधाननगर में भाजपा नेता अनुपम दत्ता को भी नजरबंद किया गया है। मतदान के दौरान आ रही हिंसा की खबरों के बीच बसीरहाट के मतदान केंद्र संख्या 189 के बाहर मतदाता हंगामा करने लगे। उनका आरोप था कि टीएमसी के कार्यकर्ता उन्हें वोट नहीं डालने दे रहे। बसीरहाट से भाजपा उम्मीदवार सायंतन बसु ने कहा कि 100 लोगों को वोट डालने से रोका गया। हमलोग उन्हें वोट कराने ले जा रहे हैं। गौरतलब है कि सातवें चरण के मतदान के तहत पश्चिम बंगाल की 9 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है। इसमें कोलकाता उत्तर, कोलकाता दक्षिण, दमदम, बारासात, बशीरहाट,जाधवपुर, डायमंड हार्बर, जयनगर और मथुरापुर संसदीय सीटों के नाम शामिल हैं। पहले चरण से अब तक हर बार यहां मतदान के दौरान भाजपा और तृणमूल कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई है। सातवें चरण के मतदान के लिए चल रहे चुनाव प्रचार के दौरन भी कई घटनाओं को अंजाम दिया गया। कोलकाता में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैली के दौरान कई जगह हिंसा और आगजनी की खबरें आईं थीं। इन्हीं हिंसक घटनाओं को देखते हुए सातवें चरण के लिए निर्धारित समय से 20 घंटे पहले ही चुनाव प्रचार पर रोक लगा दिया गया था। आज अंतिम चरण में भी ये घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रहीं हैं।