1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. लोकसभा चुनाव से पूर्व एडीआर ने जारी की रिपोर्ट, सोनिया, राहुल, मेनका और मुलायम की संपत्ति बढ़ी

लोकसभा चुनाव से पूर्व एडीआर ने जारी की रिपोर्ट, सोनिया, राहुल, मेनका और मुलायम की संपत्ति बढ़ी

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। देश में लोकसभा चुनाव से पूर्व एडीआर (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रे​टिक रिफॉर्म्स) ने एक रिपोर्ट जारी की है। जिसमें 2004 से 2019 तक लोकसभा और विधानसभा के तीन चुनाव में माननीयों के बढ़ते वि​त्तिय और अपराधिक विवरणाों के आधार पर यह रिपोर्ट तैयार की है। इस रिपोर्ट में सामने आया है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, सोनिया गांधी, पीलीभीत से सांसद व केन्द्रिय मंत्री मेनका गांधी की सम्पत्यिां बढ़ी हैं, जबकि अपराधिक छवि के लोग भी खूब माननीय बने हैं। रिपोर्ट में बताया गया है कि करोड़पति माननीयों की तीसरे चुनाव तक औसत संपति छह करोड़ रुपये से ज्यादा बढ़ी है।

एडीआर के संस्थापक सदस्य प्रोफेसर त्रिलोचन शास्त्री और उत्तर प्रदेश समन्वयक संजय सिंह ने एक रिपोर्ट जारी किया है। इसमें वर्ष 2004 से लोकसभा और विधानसभा चुनाव लड़ने वाले 19971 उम्मीदवारों का विश्लेषण है। वहीं, शपथ पत्र में 1443 सांसदों व विधायकों में 38 फीसदी ने अपने ऊपर दर्ज आपराधिक मुकदमों का ​भी जिक्र किया है। इनमें 328 माननीयों पर गंभीर धाराओं में मुकदमें दर्ज है। रिपोर्ट में बताया गया है कि कुछ सांसदों और विधायकों के शपथ पत्र का विश्लेषण नहीं हो सका है। एडीआर ने रिपोर्ट में पांच सांसदों की संपत्यिों का ब्योरा जारी किया है। जिसमें बताया गया है कि वर्ष 2004 से लेकर 2014 के चुनावों में दिए शपथ पत्रों के मुताबिक दस वर्षों में सर्वाधिक 30 करोड़ पीलीभीत से सांसद व केन्द्रिय मंत्री मे​नका गांधी, 14 करोड़ मुलायम सिंह यादव, आठ करोड़ राहुल गांधी, आठ करोड़ सोनिया गांधी और दो करोड़ बृजभूषण शरण सिंह की संपत्ति बढ़ी है।



विधायकों में मुख्तार अंसारी की सम्पत्ति भी बढ़ी
एडीआर ने रिपोर्ट में बताया कि वर्ष 2004 से अब तक 1443 सांसदों और विधायकों में 864 करोड़पति हैं। इसमें मऊ से विधायक मॉफिया मुख्तार अंसारी की संपत्ति में खूब बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2017 में मुख्तार अंसारी की औसत संपत्ति 21 करोड़ 88 लाख 57 हजार 273 रूपये हुई है, जो पहले से अधिक है। इसके अलावा दूसरे नंबर पर आजमगढ़ से सपा विधायक दुर्गा प्रसाद यादव, तीसरे नंबर पर मौजूदा औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना हैं। इसके अलावा कुंड से विधायक रघुराज प्रताप सिंह, आगरा के जगन प्रसाद गर्ग, जौनपुर के शैलेन्द्र यादव ललई, सैयदराजा के सुशील सिंह, करहल से सोबरन सिंह, सादाबाद के रामवीर उपाध्याय और बलदेव के पूरन प्रकाश की भी संपत्ति भी खूब बढ़ी है।

सपा और भाजपा के माननीय सबसे ज्यादा दागी
एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक, सपा और भाजपा के माननीयों पर सबसे ज्यादा अपराधिक मामले दर्ज हैं, जिसके बाद बसपा, कांग्रेस और रालोद है। इनमें सबसे ज्यादा गंभीर आपराधिक मामले भाजपा के माननीयों पर 25 प्रतिशत, सपा पर 21 प्रतिशत बसपा और कांग्रेस के 19-19 प्रतिशत है, जबकि रालोद के 14 प्रतिशत लोगों पर मुकदमे दर्ज हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...