मोदी की सुनामी में ढह गया कांग्रेस का अभेद किला, अमेठी में भाजपा ने लहराया परचम

smriti irani
मोदी की सुनामी में ढह गया कांग्रेस का अभेद किला, अमेठी में भाजपा ने लहराया परचम

लखनऊ। देशभर में मोदी मैजिक का असर किस कदर है इस बात की बानगी आपने लोकसभा चुनाव के नतीजों में साफ तौर पर देख लिया है। लेकिन इस चुनाव की सबसे बड़ी और चौंकाने वाली बात यह रही कि कांग्रेस ने अपनी पुश्तैनी सीट को भी गंवा दिया। यूपी की अमेठी लोकसभा सीट पर लगातार कांग्रेस का कब्जा रहा है। यहां से तीन बार कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी सांसद रह चुके हैं। इस सीट पर भाजपा से स्मृति ईरानी मैदान में हैं। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से 47598 वोटों की बढ़त बना ली है और जीत की ओर बढ़ रही हैं।

Loksabha Elections 2019 Amethi Rahul Gandhi Smriti Irani :

मतगणना के पहले चक्र के परिणाम में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने 2501 मतों से बढ़त बनाई तो भाजपाई गदगद दिखे। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पीछे रहने पर कांग्रेसियों में बेचैनी देखी गई। 1967 से लेकर अब तक यहां सिर्फ दो बार ऐसा हुआ है जब कांग्रेस ने लोकसभा का चुनाव न जीता हो। हालांकि गांधी परिवार का कोई भी सदस्य आज तक इस सीट से चुनाव नहीं हारा है।

पिछले लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी। हालांकि, राहुल गांधी ने करीब एक लाख वोटों के अंतर से भाजपा की स्मृति ईरानी को हराया था। इससे पहले 2009 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी चार लाख वोटों से जीते थे।

लखनऊ। देशभर में मोदी मैजिक का असर किस कदर है इस बात की बानगी आपने लोकसभा चुनाव के नतीजों में साफ तौर पर देख लिया है। लेकिन इस चुनाव की सबसे बड़ी और चौंकाने वाली बात यह रही कि कांग्रेस ने अपनी पुश्तैनी सीट को भी गंवा दिया। यूपी की अमेठी लोकसभा सीट पर लगातार कांग्रेस का कब्जा रहा है। यहां से तीन बार कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी सांसद रह चुके हैं। इस सीट पर भाजपा से स्मृति ईरानी मैदान में हैं। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से 47598 वोटों की बढ़त बना ली है और जीत की ओर बढ़ रही हैं।
मतगणना के पहले चक्र के परिणाम में भाजपा प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने 2501 मतों से बढ़त बनाई तो भाजपाई गदगद दिखे। वहीं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के पीछे रहने पर कांग्रेसियों में बेचैनी देखी गई। 1967 से लेकर अब तक यहां सिर्फ दो बार ऐसा हुआ है जब कांग्रेस ने लोकसभा का चुनाव न जीता हो। हालांकि गांधी परिवार का कोई भी सदस्य आज तक इस सीट से चुनाव नहीं हारा है। पिछले लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी। हालांकि, राहुल गांधी ने करीब एक लाख वोटों के अंतर से भाजपा की स्मृति ईरानी को हराया था। इससे पहले 2009 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी चार लाख वोटों से जीते थे।