मेरठ में दिखा लव जिहाद का मामला, हिन्दू युवा वाहिनी ने की कार्रवाई की मांग

Love Jihad In Meerut

मेरठ। सपा सरकार में पश्चिम यूपी के कुछ शहरों में एक मुद्दा खूब गरमाया था ‘लव जिहाद का।’ इस मुद्दे को राजनीतिक गलियारों में जमकर उछाला गया था। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इसके विरुद्ध तल्ख टिप्पणी करते हुए इसे गलत ठहराया था। इस मसले में आरोप था कि गैर समुदाय का लड़का पहले लड़की को अपने प्रेम के जाल में फंसाता है और फिर धर्म परिवर्तन कर उसे उसके हाल पर छोड़ देता है। एक बार फिर मेरठ के शास्त्री नगर में ऐसा ही मामला सामने आया है जहां एक मकान में गैर समुदाय के लड़के को लड़की के साथ हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने रंगे हाथ पकड़ा लिया।



दरअसल प्रेमी जोड़ा अलग-अलग धर्म से ताल्लुक रखता है और आरोप है कि जिस मकान में ये प्रेमी जोड़े पकड़े गए है वहाँ आए दिन इस तरह के काम को अंजाम दिया जाता है। हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर मकान मालिक के खिलाफ भी कार्रवाई करने की मांग की है। पुलिस ने दोनों को थाने में बिठा लिया है और अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की है। हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता बड़ी मुश्किल से थाने से रवाना हुए। हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं का आरोप है कि यहां धर्म परिवर्तन की साजिश हो रही थी।




गौरतलब है कि हिन्दू युवा वाहिनी एक हिंदूवादी संगठन है जिसके संस्थापक यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ हैं। वर्ष 2002 के अप्रैल माह में श्री राम नवमी के पर्व पर योगी आदित्यनाथ ने महानगर से वाहिनी की स्थापना की थी। 9 वर्षों में इसका विस्तार उत्तर प्रदेश के सभी 72 जिलों हुआ है।

मेरठ। सपा सरकार में पश्चिम यूपी के कुछ शहरों में एक मुद्दा खूब गरमाया था 'लव जिहाद का।' इस मुद्दे को राजनीतिक गलियारों में जमकर उछाला गया था। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी इसके विरुद्ध तल्ख टिप्पणी करते हुए इसे गलत ठहराया था। इस मसले में आरोप था कि गैर समुदाय का लड़का पहले लड़की को अपने प्रेम के जाल में फंसाता है और फिर धर्म परिवर्तन कर उसे उसके हाल पर छोड़ देता है। एक बार फिर…