1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. LPG : रसोई गैस सिलेंडर में लगेंगे QR कोड, जो रोकेगा गैस चोरी

LPG : रसोई गैस सिलेंडर में लगेंगे QR कोड, जो रोकेगा गैस चोरी

जल्द ही रसोई गैस सिलेंडर (LPG) क्यूआर कोड (QR Code) के साथ आएंगे, जो घरेलू सिलेंडरों को रेगुलेट करने में मदद करेंगे। रेगुलेट से मतलब है कि उपभोक्ता सिलेंडर के बारे में सब कुछ जान पाएंगे। मसलन, उसे कब रिफिल किया गया, उसमें वजन कितना है और गैस चोरी तो नहीं हुई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। जल्द ही रसोई गैस सिलेंडर (LPG) क्यूआर कोड (QR Code) के साथ आएंगे, जो घरेलू सिलेंडरों को रेगुलेट करने में मदद करेंगे। रेगुलेट से मतलब है कि उपभोक्ता सिलेंडर के बारे में सब कुछ जान पाएंगे। मसलन, उसे कब रिफिल किया गया, उसमें वजन कितना है और गैस चोरी तो नहीं हुई है। यह जानकारी केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Union Petroleum Minister Hardeep Singh Puri) ने को दी है।

पढ़ें :- इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में लगे 'Pay Money Tech Jobs QR Code' वाले पोस्टर, फोटो सोशल मीडिया पर वायरल

पेट्रोलियम मंत्री ने अपने ट्विटर प्रोफाइल पर एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “फ्यूलिंग ट्रेसिबिलिटी! एक उल्लेखनीय इनोवेशन – यह क्यूआर कोड मौजूदा सिलेंडरों पर लगाया जाएगा और नए सिलेंडरों पर वेल्ड किया जाएगा। इसके एक्टिव होने पर इसमें गैस सिलेंडर की चोरी, ट्रैकिंग और ट्रेसिंग, और बेहतर इन्वेंट्री मैनेजमेंट के कई मौजूदा मुद्दों को हल करने की क्षमता है।

यूपी में आयोजित हो रहे ‘वर्ल्ड एलपीजी वीक 2022’ के वीडियो में हरदीप पुरी अधिकारियों के साथ बातचीत करते हुए और विचार की व्यवहार्यता के बारे में पूछताछ कर रहे थे। बता दें कि QR Code की फुल फॉर्म क्विक रिस्पांस कोड है, जिसे मशीनें पढ़ सकती हैं। ये एक तरह के ऑप्टिकल लेबल होते हैं, जिनमें उस आइटम के बारे में विवरण होता है, जिससे वे जुड़े होते हैं।

समस्या और समाधान

पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Petroleum Minister Hardeep Singh Puri) के ट्वीट पर कई लोगों ने रिस्पांस करते हुए लिखा है यह सरकार समस्याओं का समाधान खोज रही है। अक्सर सिलेंडर से गैस के चोरी होने की जानकारी नहीं मिल पाती है। परंतु अब ऐसा नहीं होगा, क्योंकि QR कोड को स्कैन करते ही उस सिलेंडर से जुड़ी सारी जानकारी उपभोक्ता के सामने होगी।

पढ़ें :- वरुण गांधी बोले- मोदी जी गरीबों के 'उज्जवला चूल्हे' बुझ रहे हैं, 4.13 करोड़ लोग LPG की सिंगल रीफ़िल नहीं करा पाए

क्या-क्या जान सकेंगे उपभोक्ता?

गैस सिलेंडर उपभोक्ता QR कोड स्कैन करके यह पता पाएंगे कि वह सिलेंडर किनती बार रिफिल हो चुका है अथवा भरा जा चुका है। यह जानकारी भी मिलेगी कि उसे कहां भरा गया है, उसकी टेस्टिंग हुई है या नहीं। इसके साथ ही सिलेंडर का वजन समेत कुछ और जानकारियां भी मौजूद रहेंगी।

World LPG Week 2022 में हरदीप सिंह पुरी ने बताया कि आने वाले 3 महीनों में सभी गैस सिलेंडरों पर QR Code लग जाएगा। इसका मतलब ये हुआ कि फरवरी 2023 से आपके घर पहुंचने वाले सिलेंडर पर क्यूआर कोड होगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...