1. हिन्दी समाचार
  2. LU लॉ पेपर लीक: CM ने STF को सौंपी जांच, ​परिक्षांएं​ निरस्त, सड़कों पर छात्रों का हंगामा

LU लॉ पेपर लीक: CM ने STF को सौंपी जांच, ​परिक्षांएं​ निरस्त, सड़कों पर छात्रों का हंगामा

Lu Law Paper Leaked Cm Handed Over Investigation To Stf Tests Canceled Students Commotion On The Streets

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय के लॉ सेमेस्टर परीक्षा में हो रही धांधली उजगार होने के बाद लॉ की सारी परीक्षाएं निरस्त कर दी गयी है। विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और छात्रा डॉ रिचा के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने के बाद विश्वविद्यालय प्रशासन ने यह कदम उठाया है। वहीं गुरुवार को सीएम ने मामले का संज्ञान लेते हुए इसकी जांच एसटीएफ को सौंप दी। उधर लॉ की परिक्षाएं निरस्त होने से नाराज छात्र सड़कों पर उतर आये हैं और जमकर हंगामा कर रहे हैं।

पढ़ें :- सोनौली:कोतवाली के बगल में बना दिया कूड़ा घर,आस-पास के लोगो का जीना हुआ दुश्वार

लॉ परीक्षा में धांधली : LU के दो प्रोफेसर सस्पेंड, परीक्षा निरस्त, सिटी लॉ कॉलेज पर 5 लाख का जुर्माना

आपको बता दें कि, hindi.pardaphash.com ने इस खबर को सबसे पहले प्रकाशित किया था। पर्दाफाश के हाथ लगे आडियो में एलयू के प्रोफेसर अशोक कुमार सोनकर, राकेश कुमार सिन्हा और छात्रा डॉ. रिचा के बीच हुई बातचीत थी। परिक्षाएं निरस्त होने की जानकारी देते हुए विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक लेफ्टिनेंट कर्नल एके मिश्रा ने बताया की जल्द ही परीक्षाओं की नई तारीखें घोषित की जाएंगी। वहीं अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया कि पेपर लीक मामले में दर्ज एफआईआर की जांच में अब एसटीएफ सहयोग करेगी। अधिकारी हो या कोई और, जो भी दोषी पाया गया सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।

लॉ की परीक्षाओं में हो रही धांधली : कॉलेज के शिक्षकों को करिए फोन और जनिए परीक्षा प्रश्न, ऑडियो वायरल

आपको बता दें कि जैसे ही इस मामले की जानकारी कार्यवाहक कुलपति एसके शुक्ल को हुई तो उन्होने विधि विभाग के प्रफेसर राकेश कुमार सिंह और असोसिएट प्रफेसर अशोक कुमार सोनकर को सस्पेंड कर दिया था। वहीं गुरूवार देर शाम आईपीपीआर निदेशक और प्रवक्ता डॉ. दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि डॉ. दुर्गेश इस्तीफे की वजह व्यक्तिगत बता रहे हैं। लेकिन इसे मामले में कार्यवाहक वीसी की भूमिका से जोड़कर देखा जा रहा है। प्रोफेसर राकेश सिंह को सस्पेंड तो कर दिया गया था लेकिन लेकिन परीक्षा नियंत्रक की ओर से दर्ज कराई गयी एफआईआर में प्रो. आरके सिंह का नाम नहीं शामिल किया गया।

पढ़ें :- बंगालः नारेबाजी से नाराज हुईं ममता बनर्जी, कहा-किसी को बुलाकर बेइज्जत करना ठीक नहीं

लॉ परीक्षा में धांधली : LU के दो प्रोफेसर सस्पेंड, परीक्षा निरस्त, सिटी लॉ कॉलेज पर 5 लाख का जुर्माना

इस मामले में विवि शिक्षक संघ ने कार्यवाहक कुलपति एसके शुक्ल को भी घेरना शुरू कर दिया है। इस मामले में शिक्षकों का कहना है कि ऑडियो में वीसी की भी आवाज सुनाई दी है तो निष्पक्ष जांच कैसे हो सकती है। शिक्षकों की मांग है कि कार्यवाहक कुलपति को हटाकर स्थायी कुलपति की नियुक्ति की जाये। वहीं कुलपति एसके शुक्ल ने जबाब देते हुए कहा है कि मैं अपनी आवाज का खंडन नहीं कर सकता। मैं किसी से भी बात करने के लिए स्वतंत्र हूं लेकिन मैं किसी से अपराध करने को क्यों कहुुगा। इस प्रकार के षडयंत्र रच कर लोग विश्व विद्यालय की गरिमा से खिलवाड़ कर रहे हैं।

लॉ की परीक्षाओं में हो रही धांधली : कॉलेज के शिक्षकों को करिए फोन और जनिए परीक्षा प्रश्न, ऑडियो वायरल

पेपर लीक ऑडियो वायरल होने के बाद एलयू प्रशासन ने एलएलबी की परीक्षाएं निरस्त करने का जैसे ही आदेश दिया तो छात्र भड़क गये और सड़कों पर उतरकर हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान छात्रों ने न्यू और ओल्ड कैम्पस से लेकर वीसी आवास और प्रशासनिक भवन तक प्रदर्शन किया। आपको बता दें कि न्यू कैम्पस में स्टूडेंट्स ने गुरूवार सुबह ही लॉ फैकल्टी के मेन गेट पर ताला लगा दिया था। इस दौरान कई शिक्षकों को अन्दर ही बंद कर दिया था। दूसरी तरफ डीएवी कॉलेज के नराज छात्रों और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने भी वीसी आवास का घेराव किया।

पढ़ें :- हमारे नेताजी भारत के पराक्रम की प्रतिमूर्ति भी हैं और प्रेरणा भी : पीएम मोदी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...