लखनऊ: 12 साल की नाबालिग रेप पीड़िता बनी मां

rape-victim

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ से एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां के सुगापुर गांव में रहने वाली रेप पीड़ित एक नाबालिग बच्ची ने राम मनोहर लोहिया अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया है। इस मामले ने यूपी पुलिस की एक और बड़ी लापरवाही सामने ला दी है। दरअसल शिकायत दर्ज करवाने के कई महीने तक पुलिस ने पीड़िता के नाबालिग होने के बावजूद आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज नहीं किया था।

Lucknow 12 Year Old Minor Raped Mother :

नाबालिग के मां के अनुसार, “बेटी टंकी से पानी भरने गयी थी, एक लड़के ने शौचालय में ले जाकर उसका रेप किया और बेटी को धमकी दी अगर किसी को बता दिया तो जान से मार डालेंगे। इस डर से उसने यह बात मुझे चार महीने तक नहीं बताई। उन्होंने आगे बताया कि, गांव के ही अजय नामक युवक ने 9 महीने पहले बेटी के साथ रेप क‍िया था।

इसके बाद जान से मारने की धमकी द‍िया था। इसकी श‍िकायत हमने थाने में दी थी। उस दौरान पुल‍िस ने केस दर्ज कर आरोपी को जेल भेज द‍िया। 5 महीने बाद जब लड़की की पेट में दर्द हुआ तो वह उसे स्थानीय डॉक्टर के पास ले गई, जहां डॉक्टर ने उसे प्रेग्नेंट बताया।

इसके बाद उसने लोकलाज के डर से क‍िसी से कुछ नहीं कहा। आज जब उसकी हालत ब‍िगड़ी तो क‍िसी अनजान व्यक्त‍ि ने चाइल्ड लाइन फोन को कर द‍िया। इसकी जानकारी होते ही चाइल्ड लाइन ने आशा ज्योत‍ि एनजीओ से संपर्क कर इसकी सूचना दी। इसके बाद लड़की को राम मनोहर लोह‍िया हॉस्प‍िटल में भर्ती कराया गया, जहां उसने बच्चे को जन्म द‍िया। जच्चा-बच्चा दोनों की हालत ठीक बताई जा रही है।

अस्पताल से ड‍िस्चार्ज होने के बाद दोनों को सेल्टर होम भेजा जाएगा। इस मामले की निगरानी सीडब्ल्यूसी कर रही है। घटना की जानकारी एसएसपी को दे दी गई है।

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ से एक बार फिर इंसानियत को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है। यहां के सुगापुर गांव में रहने वाली रेप पीड़ित एक नाबालिग बच्ची ने राम मनोहर लोहिया अस्पताल में बच्चे को जन्म दिया है। इस मामले ने यूपी पुलिस की एक और बड़ी लापरवाही सामने ला दी है। दरअसल शिकायत दर्ज करवाने के कई महीने तक पुलिस ने पीड़िता के नाबालिग होने के बावजूद आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज नहीं किया था।नाबालिग के मां के अनुसार, "बेटी टंकी से पानी भरने गयी थी, एक लड़के ने शौचालय में ले जाकर उसका रेप किया और बेटी को धमकी दी अगर किसी को बता दिया तो जान से मार डालेंगे। इस डर से उसने यह बात मुझे चार महीने तक नहीं बताई। उन्होंने आगे बताया कि, गांव के ही अजय नामक युवक ने 9 महीने पहले बेटी के साथ रेप क‍िया था।इसके बाद जान से मारने की धमकी द‍िया था। इसकी श‍िकायत हमने थाने में दी थी। उस दौरान पुल‍िस ने केस दर्ज कर आरोपी को जेल भेज द‍िया। 5 महीने बाद जब लड़की की पेट में दर्द हुआ तो वह उसे स्थानीय डॉक्टर के पास ले गई, जहां डॉक्टर ने उसे प्रेग्नेंट बताया।इसके बाद उसने लोकलाज के डर से क‍िसी से कुछ नहीं कहा। आज जब उसकी हालत ब‍िगड़ी तो क‍िसी अनजान व्यक्त‍ि ने चाइल्ड लाइन फोन को कर द‍िया। इसकी जानकारी होते ही चाइल्ड लाइन ने आशा ज्योत‍ि एनजीओ से संपर्क कर इसकी सूचना दी। इसके बाद लड़की को राम मनोहर लोह‍िया हॉस्प‍िटल में भर्ती कराया गया, जहां उसने बच्चे को जन्म द‍िया। जच्चा-बच्चा दोनों की हालत ठीक बताई जा रही है।अस्पताल से ड‍िस्चार्ज होने के बाद दोनों को सेल्टर होम भेजा जाएगा। इस मामले की निगरानी सीडब्ल्यूसी कर रही है। घटना की जानकारी एसएसपी को दे दी गई है।