अखिलेश पर ‘मुलायम’ हुए सपा संरक्षक, पैर छूने पर दिया आशीर्वाद

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव व उनके पिता मुलायम सिंह यादव काफी लंबे समय बाद सार्वजनिक तौर पर एक साथ नजर आए। इस दौरान अखिलेश ने मुलायम के पैर छूकर उनका आशीर्वाद भी लिया। मुलायम सिंह यादव ने कहा, ‘अखिलेश को हमारा आशीर्वाद है।’ हालांकि समारोह में शिवपाल सिंह यादव नहीं पहुंचे थे।

लखनऊ में डॉ. राममनोहर लोहिया के 51वें स्मृति दिवस के मौके पर राममनोहर लोहिया पार्क में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने लोहिया की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस मौके पर अखिलेश और मुलायम खेमे के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहे। अखिलेश ने पिता मुलायम के पैर छूकर आशीर्वाद लिया। किसी कार्यक्रम में दोनों की मौजूदगी से एक बात तो स्पष्ट हो रही है कि अब दोनों में सुलह हो चुकी है।

{ यह भी पढ़ें:- चाचा ने 18 महीने की मासूम को बनाया हवस का शिकार }

कार्यक्रम के बाद मीडिया से बात करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सभी को आशीर्वाद दिया है। लंबे समय से पिता और बेटे के बीच जारी जंग के सवाल पर अखिलेश ने कहा कि थोड़ी बहुत अनबन हर परिवार में होती है।

वहीं, दूसरी ओर मुलायम ने भी परिवार में जारी कलह के सुलझ जाने के संकेत दिए। उन्होंने कहा कि परिवार में कोई मतभेद नहीं है, सब एक हैं। अखिलेश को आशीर्वाद देने के बारे में उन्होंने कहा, अखिलेश को पूरा आशीर्वाद है और रोज-रोज आशीर्वाद थोड़े ही दिया जाता है।

{ यह भी पढ़ें:- ताजमहल विश्व धरोहर है, सीएम योगी ताजमहल के सामने फोटो खिंचवाएं: अखिलेश यादव }

अखिलेश और मुलायम यादव के इस मिलन को और संबंध सुधार को सपा समर्थक बहुत सकारात्मक रूप में ले रहे हैं। इसे 2019 के लोकसभा चुनाव के पहले समाजवादी पार्टी में नई ऊर्जा का संचार करने वाला मान रहे हैं।