1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lucknow Alaya Apartment Tragedy : सपा प्रवक्ता अब्बास हैदर की मां और पत्नी की मौत, झड़प के बाद पुलिस ने परिजनों को सौंपे शव

Lucknow Alaya Apartment Tragedy : सपा प्रवक्ता अब्बास हैदर की मां और पत्नी की मौत, झड़प के बाद पुलिस ने परिजनों को सौंपे शव

समाज वादी पार्टी प्रवक्ता अब्बास हैदर की पत्नी उजमा तलहा के शव को प्रशासन ने परिजनों को सौंप दिया है।अस्पताल में मृतकों का शव ले जाने पर पुलिस और परिजनों के बीच झड़प हो गई थी, लेकिन पुलिस ने झड़प के बाद परिजनों को शव सौंप दिए है। हादसे में 17 घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद उजमा तलह को बाहर निकाला गया।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Lucknow Alaya Apartment Tragedy : समाज वादी पार्टी प्रवक्ता अब्बास हैदर की पत्नी उजमा तलहा के शव को प्रशासन ने परिजनों को सौंप दिया है। अस्पताल में मृतकों का शव ले जाने पर पुलिस और परिजनों के बीच झड़प हो गई थी, लेकिन पुलिस ने झड़प के बाद परिजनों को शव सौंप दिए है। हादसे में 17 घंटे के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद उजमा तलह को बाहर निकाला गया। इनका मासूम बच्चा भी भर्ती है। उजमा को कड़ी मशक्कत के बाद मलबे से बाहर निकाला गया। वह गंभीर रूप से जख्मी बताई जा रही थी। उनके सिर एवं पैर में बड़ी चोटें मिली। महिला को फौरन एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया है। जहां डॉक्टरों मे मृत घोषित कर दिया।

पढ़ें :- Lucknow News : अलाया अपार्टमेंट मामले में लखनऊ पुलिस का बड़ा एक्शन, पूर्व मंत्री शाहिद मंजूर के भतीजे को किया गिरफ्तार

अस्पताल में मृतकों का शव ले जाने पर परिजनों और प्रशासन के बीच झड़प हो गई

अस्पताल में जख्मी लोगों की चीख से गूंज रही हैं। घायलों में पुरूष एवं महिलाओं के अलावा बच्चे भी शामिल हैं। वहीं, अस्पताल में मृतकों का शव ले जाने पर परिजनों और प्रशासन के बीच झड़प हो गई।

एलडीए और नगर निगम की टीम पर मलबा हटाने की जिम्मेदारी है। रेस्क्यू खत्म होने के बाद मलबा हटाने का काम किया जाएगा। इस दौरान मलबा में कई सिलेंडर और बाकी ऐसे सामान दबे हैं, जिससे हादसा होने की संभावना है। इसको देखते हुए पास के बड़े अपार्टमेंट से भी लोगों को हटाया जाएगा। इस दौरान आस- पास के करीब 50 परिवार को हटाया जा सकता है। इसमें एक ही अपार्टमेंट में रहने वाले 20 से ज्यादा परिवार शामिल है। हाइसे में अभी तक दो लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है कि अंदर कुछ लोग और दबे है। अब उनके बचने की संभावना भी बहुत कम है। बिल्डिंग में पांच मजिला मलबा दबा है। इसमें 20 से ज्यादा से परिवार से रहते थे।

अलाया अपार्टमेंट के आस- पास की बिल्डिंग होंगी खाली: एलडीए वीसी इंद्रमणि त्रिपाठी

एलडीए वीसी इंद्रमणि त्रिपाठी और नगर आयुक्त इंद्रजीत सिंह ने बताया कि अभी आस- पास के अपार्टमेंट और बिल्डिंगं को खाली कराने के लिए अभियान तेज किया जाएगा। उन्होंने बताया कि आस- पास के भवनों की जांच कराई जा रही है। उनको अगर कोई नुकसान हुआ होगा तो एहतियात के तौर पर उसको खाली कराया जाएगा। इससे कि भविष्य में कोई हादसा न हो पाए। अलाया अपार्टमेंट के आस- पास की बिल्डिंग खाली कराई जाएगी। इसको लेकर अभियान तेज की दिया गया है। एलडीए और नगर निगम इसको लेकर संयुक्त अभियान चलाएगा। बताया जा रहा है कि खाली कराने की पीछे दो बड़ी वजह है। इसमें एक वजह बिल्डिंग के गिरने से दो भवन क्षतिग्रस्त हो गए हैं। ऐसे में उसको खाली कराने के बाद उसकी जांच होगी। जब पूरी तरह से वह मानक पर आ जाएगा तभी उसमें लोगों के रहने की अनुमति मिलेगी।

पढ़ें :- Lucknow Alaya Apartment Tragedy : सपा नेता अब्बास हैदर की मां और पत्नी की मौत

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...