1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. लखनऊ : आजम खान की तबीयत नाजुक, मेदांता हॉस्पिटल में शिफ्ट करने की तैयारी

लखनऊ : आजम खान की तबीयत नाजुक, मेदांता हॉस्पिटल में शिफ्ट करने की तैयारी

यूपी के रामपुर जिले से सपा सांसद आजम खान की तबीयत रविवार को अचानक बिगड़ गई है। बता दें कि खान की रिपोर्ट बीते 1 मई को कोरोना पॉजिटिव आई थी। बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन के अधिकारी आजम खान को लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल लखनऊ में शिफ्ट करने की तैयारी कर रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Lucknow Azam Khans Fragile Health Preparations To Shift To Medanta Hospita

सीतापुर। यूपी के रामपुर जिले से सपा सांसद आजम खान की तबीयत रविवार को अचानक बिगड़ गई है। बता दें कि खान की रिपोर्ट बीते 1 मई को कोरोना पॉजिटिव आई थी। बताया जा रहा है कि जिला प्रशासन के अधिकारी आजम खान को लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल लखनऊ में शिफ्ट करने की तैयारी कर रहे हैं। सीतापुर जेल में बंद आजम खान को ले जाने के लिए एंबुलेंस और स्कॉट तैयार है। मौके पर एएसपी, एसडीएम सदर सहित सीओ सिटी जिला कारागार पर मौजूद हैं।

पढ़ें :- सर्वे में खुलासा : एक बार कोविड पॉजिटिव होने वालों को दोबारा संक्रमण का खतरा कम

पिछले एक साल से ज्यादा समय से आजम खान सीतापुर जेल में निरुद्ध हैं। सीतापुर जेल प्रशासन ने दो दिन पहले ही उनका कोविड टेस्ट कराया था। कोविड टेस्ट रिपोर्ट में आजम खान सहित जेल में 13 बंदी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

बता दें आजम खान की विधायक पत्नी तजीन फातमा को कुछ दिनों पहले ही जमानत मिल गई थी। लेकिन, आजम खान और अब्दुल्ला आजम का इंतजार लम्बा होता जा रहा है। आजम के ऊपर 80 से ज्यादा मुकदमें दर्ज है, जबकि अब्दुल्ला के ऊपर 40 से ज्यादा केस दर्ज हैं। जानकारी के अनुसार अधिकतर मामलों में उन्हें जमानत मिल चुकी है, अब कुछ मुकदमों में ही जमानत मिलनी बाकी है।

26 फरवरी को आजम उनकी पत्नी और बेटा भेजे गए थे जेल

बीते साल 26 फरवरी 2020 को आजम खान, उनकी पत्नी तजीन फातमा और बेटे अब्दुल्ला आजम ने रामपुर की अदालत में आत्मसमर्पण किया था। तीनों के ऊपर दस्तावेजों में हेराफेरी करके फर्जी पैन कार्ड और पासपोर्ट बनवाने का साल 2019 में मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मुकदमे में अदालत द्वारा बार-बार बुलाने के बावजूद वे हाजिर नहीं हो रहे थे। लिहाजा कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिया। NBW जारी होने के बाद तीनों ने अदालत में आत्मसमर्पण किया और जमानत मांगी लेकिन, अदालत ने उन्हें रामपुर की जिला जेल भेज दिया।

पढ़ें :- बड़ी खबर: पहली बार डिप्टी सीएम केशव मौर्य से उनके आवास पर मिलने पहुंचे सीएम योगी, लगाई जा रहीं हैं कई अटकलें

तजीन फातमा को मिल चुकी है जमानत

27 फरवरी को तीनों को सीतापुर जेल में शिफ्ट किया गया। दिसंबर में उनकी पत्नी और रामपुर सदर से सपा विधायक तजीन फातमा को जमानत मिल गयी थी। वे बाहर हैं लेकिन, आजम खान और उनके बेटे को अभी जमानत का इंतजार है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X