अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से गिरकर कम्प्यूटर कारोबारी की मौत, छानबीन मेें जुटी पुलिस

d

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गाजीपुर इलाके में रविवार रात कल्याण गार्डेन व्यू अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से रहस्यमयी हालात में गिरकर कम्प्यूटर कारोबारी आशीष गोयल की मौत हो गई। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मोबाइल फोन व आधार कार्ड के जरिए मृतक की शिनाख्त करके घरवालों को सूचना दी। अधिकारियों के मुताबिक आशीष का परिवारीजनों से मनमुटाव हुआ था जिसके बाद वह घर से निकला था। पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वह अपार्टमेंट में किससे मिलने आया था। पुलिस वहां के सिक्योरिटी गार्डों से पूछताछ कर रही है।

Lucknow Businessman Found Death In Apartment :

सीओ गाजीपुर दीपक सिंह ने बताया कि महानगर के सेक्टर एच निवासी राजेन्द्र गोयल की डालीगंज में राइस मिल है। उनका इकलौता बेटा आशीष सॉफ्टवेयर इंजीनियर था। वह कंप्यूटरए लैपटॉप और प्रिंटर की सप्लाई का काम करता था।रविवार शाम सात बजे वह रिंग रोड स्थित कल्याण गार्डेन व्यू अपार्टमेंट पहुंचा। लोगों ने उसे फोन पर बात करते हुए ऊपर जाते हुए देखा।

कुछ ही देर बाद वह अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से संदिग्ध हालात में नीचे गिर गया। पोर्टिको में साइकिल चला रहे कुछ बच्चों ने उसे लहूलुहान हालत में नीचे पड़ा देख शोर मचाया। यह सुनकर अपार्टमेंट में तैनात सिक्योरिटी गार्ड व अन्य लोग भाग कर मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची गाजीपुर पुलिस ने पूछताछ की तो पला चला कि मृतक स्थानीय निवासी नहीं है। पुलिस को उसकी जेब से मोबाइल फोनए पर्स व गाड़ी की चाभी मिली।

पर्स में आधार कार्डए पैन कार्ड समेत अन्य दस्तावेज थे। इसके आधार पर मृतक की शिनाख्त आशीष गोयल के रूप में हुई जिसके बाद पुलिस ने परिवारीजनों को घटना की सूचना दी। इंस्पेक्टर बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि आशीष की हान्डा सिटी कार अपार्टमेंट की पार्किंग में खड़ी मिली है। वहीं सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में वह शाम 7.16 बजे ग्राउंड फ्लोर में प्रवेश करते नजर आ रहा है।

इसके बाद वह लिफ्ट में न जाकर सीढिय़ों के रास्ते ऊपर जाते हुए दिखा। अब पुलिस वहां लगे सभी कैमरों की वीडियो फुटेज खंगाल रही है। आशीष की मौत की खबर पाकर उसके परिवार में कोहराम मच गया। उसके पिता राजेन्द्र गोयल कुछ रिश्तेदारों के साथ लोहिया अस्पताल पहुंचे। वहां बेटे का शव देखकर वह बिलख पड़े। वहीं उसकी मां मिथिलेश देवी का रो रोकर बुरा हाल था।

परिवार के करीबियों ने पुलिस को बताया कि आशीष की दो बहनें हैं जिनकी शादी हो चुकी है। आशीष की उम्र 29 वर्ष हो गई थी और घरवाले उस पर शादी के लिए दबाव बना रहे थे। हालांकि वह शादी के लिए तैयार नहीं था और इस बात पर मनमुटाव हो रहा था। पुलिस का मानना है कि इसी उलझन में आशीष ने आत्महत्या की है। पूरा सच जानने के लिए पुलिस उसकी कॉल डिटेल खंगाल रही है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के गाजीपुर इलाके में रविवार रात कल्याण गार्डेन व्यू अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से रहस्यमयी हालात में गिरकर कम्प्यूटर कारोबारी आशीष गोयल की मौत हो गई। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मोबाइल फोन व आधार कार्ड के जरिए मृतक की शिनाख्त करके घरवालों को सूचना दी। अधिकारियों के मुताबिक आशीष का परिवारीजनों से मनमुटाव हुआ था जिसके बाद वह घर से निकला था। पुलिस यह पता लगाने का प्रयास कर रही है कि वह अपार्टमेंट में किससे मिलने आया था। पुलिस वहां के सिक्योरिटी गार्डों से पूछताछ कर रही है। सीओ गाजीपुर दीपक सिंह ने बताया कि महानगर के सेक्टर एच निवासी राजेन्द्र गोयल की डालीगंज में राइस मिल है। उनका इकलौता बेटा आशीष सॉफ्टवेयर इंजीनियर था। वह कंप्यूटरए लैपटॉप और प्रिंटर की सप्लाई का काम करता था।रविवार शाम सात बजे वह रिंग रोड स्थित कल्याण गार्डेन व्यू अपार्टमेंट पहुंचा। लोगों ने उसे फोन पर बात करते हुए ऊपर जाते हुए देखा। कुछ ही देर बाद वह अपार्टमेंट की आठवीं मंजिल से संदिग्ध हालात में नीचे गिर गया। पोर्टिको में साइकिल चला रहे कुछ बच्चों ने उसे लहूलुहान हालत में नीचे पड़ा देख शोर मचाया। यह सुनकर अपार्टमेंट में तैनात सिक्योरिटी गार्ड व अन्य लोग भाग कर मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची गाजीपुर पुलिस ने पूछताछ की तो पला चला कि मृतक स्थानीय निवासी नहीं है। पुलिस को उसकी जेब से मोबाइल फोनए पर्स व गाड़ी की चाभी मिली। पर्स में आधार कार्डए पैन कार्ड समेत अन्य दस्तावेज थे। इसके आधार पर मृतक की शिनाख्त आशीष गोयल के रूप में हुई जिसके बाद पुलिस ने परिवारीजनों को घटना की सूचना दी। इंस्पेक्टर बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि आशीष की हान्डा सिटी कार अपार्टमेंट की पार्किंग में खड़ी मिली है। वहीं सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में वह शाम 7.16 बजे ग्राउंड फ्लोर में प्रवेश करते नजर आ रहा है। इसके बाद वह लिफ्ट में न जाकर सीढिय़ों के रास्ते ऊपर जाते हुए दिखा। अब पुलिस वहां लगे सभी कैमरों की वीडियो फुटेज खंगाल रही है। आशीष की मौत की खबर पाकर उसके परिवार में कोहराम मच गया। उसके पिता राजेन्द्र गोयल कुछ रिश्तेदारों के साथ लोहिया अस्पताल पहुंचे। वहां बेटे का शव देखकर वह बिलख पड़े। वहीं उसकी मां मिथिलेश देवी का रो रोकर बुरा हाल था। परिवार के करीबियों ने पुलिस को बताया कि आशीष की दो बहनें हैं जिनकी शादी हो चुकी है। आशीष की उम्र 29 वर्ष हो गई थी और घरवाले उस पर शादी के लिए दबाव बना रहे थे। हालांकि वह शादी के लिए तैयार नहीं था और इस बात पर मनमुटाव हो रहा था। पुलिस का मानना है कि इसी उलझन में आशीष ने आत्महत्या की है। पूरा सच जानने के लिए पुलिस उसकी कॉल डिटेल खंगाल रही है।