लखनऊ कैशवैन लूटकांड का खुलासा, रायबरेली से गिरफ्तार हुआ लुटेरा

lucknow-cashvan-loot-khulasa
लखनऊ कैशवैन लूटकांड का खुलासा, रायबरेली से पुलिस ने किया गिरफ्तार

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के सबसे पॉश इलाके हजरतगंज में राजभवन के पास छह लाख की लूट मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने लूटकांड के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर वारदात का राजफाश कर दिया है। पुलिस ने आरोपी विनीत को रायबरेली से गिरफ्तार करते हुए घटना में प्रयुक्त असलहे समेत अन्य सामान बरामद कर लिया है। लखनऊ पुलिस ने आरोपी विनीत पर एक लाख का इनाम घोषित कर रखा था। घटना के खुलासे के लिए आठ टीमों का गठन किया गया था।

Lucknow Cash Van Loot Accused Arrested From Raibareilly :

पुलिस ने आरोपी के पास से लूटे गए 4.5 लाख रुपये और असलहा बारामद किया है। एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी ने बताया कि रायबरेली के रहने वाला विनीत हत्या के मामले में दो साल से फरार चल रहा है। पुलिस ने शनिवार को घटना में शामिल बाइक को अर्जुनगंज इलाके में स्थित एक धर्मकांटे से लावारिस हालत में बरामद किया था। एसएसपी के मुताबिक लुटेरा विनीत तिवारी मूलरूप से रायबरेली के नगदीपुर अमरनगर का निवासी है। वह रायबरेली कोतवाली में हत्या के मामले में वांछित है। उसके खिलाफ गुरुबख्शगंज थाने में भी युवती के अपहरण की एफआइआर दर्ज है।

पुलिस ने शनिवार को कृष्णानगर के भोला खेड़ा स्थित न्यू इंद्रपुरी में दबिश दी थी, लेकिन बदमाश वहां से भाग निकला था। फुटेज देखकर आरोपित की मां और बहन ने उसकी शिनाख्त की थी। पुलिस ने घर से लूट में इस्तेमाल बाइक, बैग, पिस्टल की मैगजीन और आरोपित के जूते बरामद किए।

बता दें कि बीते सोमवार को हजारतगंज इलाके में राजभवन के पास एक्सिस बैंक में कैश देने आई कैशवैन को निशाना बनाते हुए आरोपी विनीत ने गार्ड और कस्टोडियन को गोली मार दी थी और 6 लाख 44 हजार रुपये कैश लेकर फरार हो गया था। गोली लगने से गनर इंद्रमोहन की मौके पर मौत हो गयी थी, जबकि गार्ड गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर डीजीपी ओपी सिंह समेत कई आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। डीजीपी ने घटना के खुलासे के लिए एसटीएफ़ को लगाया था।

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के सबसे पॉश इलाके हजरतगंज में राजभवन के पास छह लाख की लूट मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने लूटकांड के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर वारदात का राजफाश कर दिया है। पुलिस ने आरोपी विनीत को रायबरेली से गिरफ्तार करते हुए घटना में प्रयुक्त असलहे समेत अन्य सामान बरामद कर लिया है। लखनऊ पुलिस ने आरोपी विनीत पर एक लाख का इनाम घोषित कर रखा था। घटना के खुलासे के लिए आठ टीमों का गठन किया गया था।पुलिस ने आरोपी के पास से लूटे गए 4.5 लाख रुपये और असलहा बारामद किया है। एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी ने बताया कि रायबरेली के रहने वाला विनीत हत्या के मामले में दो साल से फरार चल रहा है। पुलिस ने शनिवार को घटना में शामिल बाइक को अर्जुनगंज इलाके में स्थित एक धर्मकांटे से लावारिस हालत में बरामद किया था। एसएसपी के मुताबिक लुटेरा विनीत तिवारी मूलरूप से रायबरेली के नगदीपुर अमरनगर का निवासी है। वह रायबरेली कोतवाली में हत्या के मामले में वांछित है। उसके खिलाफ गुरुबख्शगंज थाने में भी युवती के अपहरण की एफआइआर दर्ज है।पुलिस ने शनिवार को कृष्णानगर के भोला खेड़ा स्थित न्यू इंद्रपुरी में दबिश दी थी, लेकिन बदमाश वहां से भाग निकला था। फुटेज देखकर आरोपित की मां और बहन ने उसकी शिनाख्त की थी। पुलिस ने घर से लूट में इस्तेमाल बाइक, बैग, पिस्टल की मैगजीन और आरोपित के जूते बरामद किए।बता दें कि बीते सोमवार को हजारतगंज इलाके में राजभवन के पास एक्सिस बैंक में कैश देने आई कैशवैन को निशाना बनाते हुए आरोपी विनीत ने गार्ड और कस्टोडियन को गोली मार दी थी और 6 लाख 44 हजार रुपये कैश लेकर फरार हो गया था। गोली लगने से गनर इंद्रमोहन की मौके पर मौत हो गयी थी, जबकि गार्ड गंभीर रूप से घायल हो गया था। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर डीजीपी ओपी सिंह समेत कई आला अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। डीजीपी ने घटना के खुलासे के लिए एसटीएफ़ को लगाया था।