लखनऊ में सेल्फी पड़ सकती है महंगी, यहां ली सेल्फी तो जाना पड़ेगा जेल

लखनऊ। सोशल मीडिया के दौर में सेल्फी का क्रेज लोगों में काफी ज्यादा देखने को मिल रहा है। वहीं यूपी पुलिस ने सीएम आवास के बाहर सेल्फी लेने पर प्रतिबंध लगा दिया हैl अगर पुलिस ने आपको सीएम आवास के सामने सेल्फी लेते या फोटो खींचते देखा तो आपको जेल की सजा हो सकती है।

Lucknow City Selfie Near Cm Official Residence In Lucknow Can Put You In Jail :

पुलिस ने सीएम योगी के सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग से लगने वाली सड़क पर एक चेतावनी बोर्ड टांग दिया है। बोर्ड पर लिखा गया है कि इस वीआईपी क्षेत्र में फोटो लेना व सेल्फी खींचना दंडनीय अपराध है। अगर आप ऐसा करते पाये गए तो आप पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। यूपी पुलिस ने बताया कि हाई सिक्योरिटी जोन होने के कारण ऐसा फैसला लिया गया है।

एक तरफ बोर्ड की तस्वीर वायरल हुई दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी यूपी पुलिस की इस कारस्तानी पर तंज कसते हुए ट्वीट कर दिया। ट्वीट करते हुए उन्होने लिखा कि, नए साल में जनता को उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा, सेल्फी लेने पर लग सकता है यूपीकोका। अब सपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार के इस फैसले पर ट्वीट कर चुटकी ली है। मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी सदन से लेकर सड़क तक सरकार के फैसलों का विरोध कर रही है।

लखनऊ। सोशल मीडिया के दौर में सेल्फी का क्रेज लोगों में काफी ज्यादा देखने को मिल रहा है। वहीं यूपी पुलिस ने सीएम आवास के बाहर सेल्फी लेने पर प्रतिबंध लगा दिया हैl अगर पुलिस ने आपको सीएम आवास के सामने सेल्फी लेते या फोटो खींचते देखा तो आपको जेल की सजा हो सकती है। पुलिस ने सीएम योगी के सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग से लगने वाली सड़क पर एक चेतावनी बोर्ड टांग दिया है। बोर्ड पर लिखा गया है कि इस वीआईपी क्षेत्र में फोटो लेना व सेल्फी खींचना दंडनीय अपराध है। अगर आप ऐसा करते पाये गए तो आप पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। यूपी पुलिस ने बताया कि हाई सिक्योरिटी जोन होने के कारण ऐसा फैसला लिया गया है। एक तरफ बोर्ड की तस्वीर वायरल हुई दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी यूपी पुलिस की इस कारस्तानी पर तंज कसते हुए ट्वीट कर दिया। ट्वीट करते हुए उन्होने लिखा कि, नए साल में जनता को उत्तर प्रदेश सरकार का तोहफा, सेल्फी लेने पर लग सकता है यूपीकोका। अब सपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार के इस फैसले पर ट्वीट कर चुटकी ली है। मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी सदन से लेकर सड़क तक सरकार के फैसलों का विरोध कर रही है।