लखनऊ: कैसे फेल हुए स्मार्ट मीटर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दिये जांच के आदेश

yogi baba

लखनऊ। यूपी पावर कार्पोरेशन के स्मार्ट मीटर बुधवार तकरीबन 4 बजे अचानक से फेल हो गए। जिससे राजधानी के 30 हजार घरों की ​बत्ती गुल हो गई। सरकार स्मार्ट मीटर लगाने से विद्युत व्यवस्था में सुधार के दावे तो बहुत कर रही थी, लेकिन अब ये मीटर गच्चा दे गये हैं। लखनऊ समेत तमाम शहरों में स्मार्ट मीटर फेल होने से घंटों बिजली गायब हुई थी। सूत्रों के मुताबिक यहा भी पता चला है कि मीटर में बिजली तो आ रही थी लेकिन घर की सप्लाई पूरी तरह से बंद थी।

Lucknow How Smart Meters Failed Chief Minister Yogi Adityanath Ordered An Inquiry :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ने दिए जांच के आदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिये हैं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले कयास लगाये जा रहे थे कि इस प्रकरण की जांच विशेष जांच दल यानी एसटीएफ को सौंपी जा सकती है। इसके अलावा ऊर्जा विभाग में हुई इस बड़ी गड़बड़ी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद गंभीर हैं।

स्मार्ट मीटर कैसे हुए फेल

खास बात यह है कि स्मार्ट मीटर कैसे फेल हो गये? गलत प्रोग्रामिंग कैसे अपलोड हो गई, ये सभी बिंदु जांच का विषय हैं। यूपी एसटीएफ की टीम इन बिंदुओं को ध्यान में रखते हुये जांच कर सकती है। हालांकि इस मामले में प्रमुख सचिव, ऊर्जा अरविंद कुमार ने जांच करने के बाद अपनी रिपोर्ट सरकार को दी है।

लखनऊ। यूपी पावर कार्पोरेशन के स्मार्ट मीटर बुधवार तकरीबन 4 बजे अचानक से फेल हो गए। जिससे राजधानी के 30 हजार घरों की ​बत्ती गुल हो गई। सरकार स्मार्ट मीटर लगाने से विद्युत व्यवस्था में सुधार के दावे तो बहुत कर रही थी, लेकिन अब ये मीटर गच्चा दे गये हैं। लखनऊ समेत तमाम शहरों में स्मार्ट मीटर फेल होने से घंटों बिजली गायब हुई थी। सूत्रों के मुताबिक यहा भी पता चला है कि मीटर में बिजली तो आ रही थी लेकिन घर की सप्लाई पूरी तरह से बंद थी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ने दिए जांच के आदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिये हैं। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले कयास लगाये जा रहे थे कि इस प्रकरण की जांच विशेष जांच दल यानी एसटीएफ को सौंपी जा सकती है। इसके अलावा ऊर्जा विभाग में हुई इस बड़ी गड़बड़ी पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बेहद गंभीर हैं।

स्मार्ट मीटर कैसे हुए फेल

खास बात यह है कि स्मार्ट मीटर कैसे फेल हो गये? गलत प्रोग्रामिंग कैसे अपलोड हो गई, ये सभी बिंदु जांच का विषय हैं। यूपी एसटीएफ की टीम इन बिंदुओं को ध्यान में रखते हुये जांच कर सकती है। हालांकि इस मामले में प्रमुख सचिव, ऊर्जा अरविंद कुमार ने जांच करने के बाद अपनी रिपोर्ट सरकार को दी है।