नोटबंदी: लखनऊ के 1090 चौराहे पर ममता बनर्जी का प्रदर्शन, TMC से ज्यादा नजर आये सपाई

लखनऊ। नोटबंदी के खिलाफ मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के 1090 चौराहे पर पहुंची। ममता बनर्जी के इस प्रदर्शन को यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने समर्थन दे रखा है। हालांकि सीएम अखिलेश ने इस प्रदर्शन से किनारा कर लिया,लेकिन पूरे प्रदर्शन में टीएमसी कार्यकर्ताओं की संख्या नाम मात्र ही दिखी, बहुतायत संख्या में सपा कार्यकर्ता व नेता नजर आए। मंच पर कैबिनेट मंत्री अरविंद सिंह गोप, कैबिनेट मंत्री रामू वालिया, विधायक गोमती यादव, विधायक इंदल रावत, यूथ अध्यक्ष संतोष यादव, एमएलसी आनंद भदौरिया, एमएलसी सुनील सिंह साजन समेत कई नेता मौजूद रहे।




ममता बनर्जी ने कहा कि अब सपा और हम इकट्ठा हैं। हम लखनऊ में इसीलिए आए हैं कि हिंदुस्तान का इससे रिश्ता है। हर लड़ाई में यूपी ने देश को लीड किया है। नेहरू और उनके बाद के लीडर भी यूपी से हुए हैं। ममता ने 1090 चौराहे पर नोटबंदी के विरोध में कार्यकर्ताओं और जनता के साथ केंद्र सरकार पर पर हमला बोला।




कार्यकर्ताओं में हुई भिड़ंत–

लखनऊ में ममता के प्रदर्शन के दौरान बैठने को लेकर कार्यकर्ताओं में भिड़ंत हो गई। यहां पर कार्यकर्ताओं में मारपीट से भगदड़ मच गई और लोग भागने लगे। मौके पर मौजूद भारी संख्या में पुलिस बल ने स्थिति को काबू में किया। भिड़ंत टीएमसी कार्यकर्ताओं व सपा कार्यकर्ताओं के बीच हुई, पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद काबू पाया।




पंजाब के टीएमसी अध्यक्ष सरदार जगदीप ने कहा कि स्थिति गंभीर होती जा रही है। इसे रोकने की कोशिश तक नहीं की जा रही है। केंद्र सरकार लापरवाह हो गई है। ममता बनर्जी ने हमेशा जनता की भलाई के बारे में ही सोचा है। सपा कार्यकर्ता बहुत मेहनती हैं। मैं कह सकता हूं कि आने वाले चुनावों में एक बार फिर सपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी और अखिलेश यादव सीएम होंगे।

Loading...