हैवानियत की सारी हदें पार, बुजुर्ग महिला से दुष्कर्म

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मड़ियांव थाना क्षेत्र में प्राइवेट चालक ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी। गुरुवार देर रात इलाके में एक घर की दीवार फांद कर घुसे चालक ने बुजुर्ग महिला से दुष्कर्म किया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी और भाग निकला। पीड़िता ने शोर मचाया तो आसपास के लोग दौड़े। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।इलाके में 62 वर्षीय महिला घर में अकेली रहती है। उसकी बेटी व दामाद इन्दिरानगर में रहते हैं।

वृद्धा का आरोप है कि गुरुवार देर रात पड़ोसी संदीप उर्फ भगोले दीवार फांदकर घर में दाखिल हुआ। खटपट सुनकर उनकी नींद खुल गयी। वह बिस्तर से उठने लगी, तभी संदीप ने उन्हें पकड़ लिया। जब तक वह कुछ समझ पाती संदीप ने गलत काम करना शुरू कर दिया। विरोध करने पर जान से मारने की धमकी दी और भाग निकला। दर्द से कराह रही बुजुर्ग महिला ने शोर मचाया तो आसपास के लोग मदद के लिए आ गये। कंट्रोल रूम पर सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। इस बीच खबर मिलते ही बेटी दामाद भी आ गये। पीड़िता ने सारी आप बीती परिवारवालों व पुलिस को बतायी। पुलिस ने दामाद की तहरीर पर दुष्कर्म समेत गंभीर धाराओं में नामजद रिपोर्ट दर्ज की। पुलिस ने आरोपित संदीप की तलाश में दबिशें दी और शुक्रवार तड़के उसे गिरफ्तार कर लिया।

एसओ मड़ियांव अजय प्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि आरोपित संदीप प्राइवेट चालक है। आरोपित को जेल भेज दिया गया है। पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा गया है।महिला की मौतलखनऊ। जानकीपुरम के तिवारीपुर में रहने वाली महिला की संदिग्ध परिस्थितियों मौत हो गयी। तिवारीपुर निवासी शांति की बेटी शीला रानी चौहान (48) की शादी इटौंजा के महोना के रहने वाले गोकरन से हुई थी। बीते 28 फरवरी को गोकरन की मौत हो गयी थी। पति की मौत के बाद से शीला दत्तक पुत्र जीतेन्द्र के साथ मायके में मां के साथ रह रही थी।

शुक्रवार सुबह शीला का शव कमरे में मिला। पुलिस का कहना है कि बेटे जीतेन्द्र को शक था कि पिता गोकरन की पहली पत्नी के बेटे अशोक व अजय जमीनी विवाद में कुछ भी कर सकते हैं। इसी आशंका के चलते पोस्टमार्टम कराया गया है। पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई करेगी।

Loading...