शर्मनाक! बार-बार खाना खाने को कह रही थी माँ, झुंझलाकर बेटे ने कर दी हत्या

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में इंसानियत को शर्मसार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहाँ नशे के लती कलयुगी बेटे ने मां की गला दबाकर हत्या कर दी। मां का कसूर इतना था कि शराब पीने के दौरान वह बार-बार उससे खाना खाने को कह रही थी। इससे चिढ़कर झुल में बेटे ने मां का गला दबा दिया। मां को मृत देख बेटा घबराया और उसका नशा हिरन हो गया। वह मकान पर ताला लगाकर दिल्ली पिता के पास भाग गया, लेकिन जब बहन-बहनोई घर पहुंचे तो राज खुल गया। पुलिस ने इस मामले में गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर बेटे को गिरफ्तार कर लिया है।




सलारपुर थाना मवई फैजाबाद निवासी चतुरलाल शर्मा दिल्ली में काम करते हैं, जबकि बेटा किशन शर्मा (38) भीमटोला तेलीबाग पीजीआई में अकेले रहता है। पत्नी चन्द्रकलॉ पैतृक आवास राजा फत्तेपुर मोहनगंज अमेठी में रहती थी। चन्द्रकलॉ की तबीयत खराब थी, इसलिए वह 14 अक्टूबर को इलाज कराने के लिए भीमटोला तेलीबाग अपने बेटे के पास आयी थीं। 16 अक्टूबर को दामाद रामराज व उसकी पत्नी ने सास का हाल जानने के लिए साले किशन को फोन किया तो फोन नहीं मिला। उन्हें चिन्ता हुई तो किसी अनहोनी की आशंका के चलते रामराज, पत्नी रजनी, साली लक्ष्मी व दामाद सोनू के साथ भीमटोला तेलीबाग आ गये। घर पर ताला लगा था। उन्होंने आसपास साले किशन को खोजा तो वह मिल गया। दरवाजा खोलाकर जब वे लोग कमरे के अन्दर गये तो देखा कि सास चन्द्रकलॉ की लाश जमीन पर पड़ी थी।

उन्होंने किशन से पूछताछ की तो उसने बताया कि 15 अक्टूबर को रात करीब 10 बजे वह शराब पी रहा था, तभी मां उससे बार-बार खाना खाने को कह रही थी। मैं नशे में था और चिढ़कर गुस्से में उसकी गर्दन पकड़कर झंझोर दिया। वह गिर गयी तो नशे के कारण उसे नींद आ गयी। सुबह देखा तो मां मृत पड़ी थी। मैं डर गया और इधर-उधर घूमता रहा फिर पिता के पास दिल्ली चला गया। डर के मारे में उनकों भी नहीं बताया और फिर वापस आ गया। डर के मारे घर में ताला लगाकर इधण-उधर घूम रहा था। रामराज ने पीजीआई पुलिस को सूचना दी और साले के खिलाफ सास का गला दबाकर हत्या की तहरीर दी। पुलिस ने आरोपित का बयान सुनने के बाद मामले को गैर-इरादतन हत्या में दर्ज कर किशन शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।