गार्ड की गोली मारकर हत्या, लाश जंगल में फेंकी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लखनऊ जनपद के काकोरी क्षेत्र के रहमानखेड़ा फार्म में एक ठेकेदार के यहां गार्ड की नौकरी कर रहे व्यक्ति की लाश जंगल में पड़ी मिली है। उसकी दाहिनी आंख में गोली मारी गयी है। गार्ड शुक्रवार रात से गायब था, उसकी तलाश परिजन कर रहे थे। गार्ड की गुमशुदगी थाने में दर्ज करायी गयी थी, लेकिन पुलिस ने ध्यान नहीं दिया। परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए रविवार को हरदोई रोड जामकर प्र्दशन किया। इस दौरान करीब चार घंटे तक हरदोई रोड जाम रहा। मौके पर पहुंची एसएसपी मंजिल सैनी के अपराधियों को जल्द पकड़ने का आश्वासन देकर जाम खुलवाया।




काकोरी के बुधड़िया गांव निवासी श्रीराम यादव (45) पुत्र स्व. मेड़ीलाल रहमानखेड़ा जंगल में पत्थर के पिलर बनाकर जंगल की बांउड्रीवाल बना रहे थे। सीतापुर निवासी ठेकेदार राहुल व अस्थाना नाम व्यक्तियों के यहां अपनी लाइसेंसी बंदूक के साथ पांच माह से गार्ड की नौकरी भी कर रहे थे। पांच माह से ठेकेदारों ने उन्हें वेतन नहीं दिया था, जिसको लेकर श्रीराम का ठेकेदारों से विवाद हुआ था। शुक्रवार रात वह रोज की तरह बंदूक के साथ ड्यूटी पर गये थे, जहां से वह शनिवार घर नहीं लौटे। परिजनों को चिंता हुई तो उनकी तलाश में ड्यूटी स्थल पर गये। वह वहां नहीं मिले, उसके बाद देर रात तक घर न आने पर परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। रविवार सुबह परिजनों ने जंगल व आसपास तलाश शुरू की तो जहां पर श्रीराम गार्ड की नौकरी करते थे, उसी के पीछे स्थित उलरापुर निवासी गनी की आम की बाग में उसकी लाश पड़ी मिली।

मृतक की दाहिनी आंख में गोली मारे जाने का निशान था। लाश मिलने के स्थान से करीब दो किलोमीटर दूर जंगल में खून के निशान मिले हैं, जिससे लग रहा है कि श्रीराम की हत्या वहां करके लाश को दूसरी जगह फेंका गया है। मृतक की लाइसेंसी बन्दूक भी गायब है। लाश के पड़े होने के स्थान से कुछ दूरी पर उसके चप्पल व मोबाइल पड़ा मिला है। पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों ने हरदोई रोड जाम कर दिया। करीब 4 घंटे तक हरदोई रोड जाम रहा। इस दौरान वाहनों की लम्बी- लम्बी कतारें लग गयीं। प्र्दशन के चलते ग्रामीणों ने पुलिस को शव नहीं उठाने दिया। मौके पर पहुंची एसएसपी मंजिल सैनी ने प्र्दशनकारियों को आश्वासन दिया कि जो भी पुलिसकर्मी दोषी होंगे, उनके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी। उसके बाद ग्रामीण शान्त हुए और जाम हटाया। पुलिस ने ठेकेदार के पास काम करने वाले चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।




श्रीराम के परिवार में पत्नी राममूर्ति, दो बेटे दिव्यांशु (14) व हिमांशु (2) हैं, जबकि 3 भाई काशीराम, दर्शनलाल व लालू हैं। हेड कांस्टेबिल निलम्बितलखनऊ। काकोरी में गार्ड श्रीराम यादव की हत्या के मामले में हीलाहवाली करने के आरोप में एसएसपी मंजिल सैनी ने सख्त रूख अपनाते हुए काकोरी थाने में तैनात हेड कांस्टेबिल शिव सिंह को निलम्बित कर दिया है। ध्यान रहे कि गार्ड की हत्या के बाद जंगल में लाश फेंके जाने को लेकर ग्रामीणों ने हरदोई रोड पर जाम लगाया था, जिससे चार घंटे तक लखनऊ-हरदोई राजमार्ग बाधित रहा।

Loading...