रात 12 बजे तक यहाँ चलाइये अपना पुराना नोट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में जहां एक ओर आम जनता 500 व 1,000 रुपये के नोट को बदलने के लिए शुक्रवार को भी बैंको के बाहर लंबी कतारों में खड़ी है, वहीं दूसरी ओर उप्र पॉवर कार्पोरेशन ने अपने ग्राहकों को बिजली बिल जमा कराने में पुराने नोटों का प्रयोग करने की छूट दी है। पावर कार्पोरेशन के अधिकारियों के मुताबिक, पुराने नोट से बिजली बिल जमा करने के निर्देश सभी बिलिंग सेंटरों को जारी किए गए हैं।



कॉरपोरेशन के प्रबंध निदेशक ए. पी. मिश्रा के मुताबिक, “बिजली बिल में 1,000 और 500 रुपये के पुराने नोट शुक्रवार को आधी रात तक स्वीकार किए जाएंगे। इसके लिए बिलिंग सेंटरों को रात 12 बजे तक खुलने के निर्देश दिए गए हैं।” उन्होंने बताया कि प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय अग्रवाल ने बिजली बिल जमा करने में उपभोक्ताओं की परेशानी को देखते हुए केंद्रीय वित्त मंत्रालय से पुराने नोट स्वीकार करने की अनुमति मांगी थी, जिसे स्वीकार कर लिया गया है।




प्रमुख सचिव ऊर्जा संजय अग्रवाल ने अधिकारियों को चेतावनी दी है कि 10 हजार रुपये तक के बिजली बकायेदारों के कनेक्शन न कटे तो अफसरों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि अफसर बिजली बकायेदारों के कनेक्शन काटने के साथ यह भी तय करें कि उन्हें किसी तरह से बिजली आपूर्ति न मिल पाए। इसके लिए इलाके में लगातार निगरानी करनी होगी।