1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Lucknow : SFI ने BBAU में लगाए गए आपत्तिजनक पोस्टर कहा- ‘अगर कैंपस में मंदिर है तो बने मस्जिद भी’

Lucknow : SFI ने BBAU में लगाए गए आपत्तिजनक पोस्टर कहा- ‘अगर कैंपस में मंदिर है तो बने मस्जिद भी’

देश की राजधानी दिल्ली में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय का विवाद अभी थमा नहीं था कि अब इसकी तपिश लखनऊ की सेंट्रल यूनिवर्सिटी बाबा साहेब अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय (BBAU) में पहुंच गई है। यहां पर देवी देवताओं को लेकर दो छात्र गुटों के बीच ठन गई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। देश की राजधानी दिल्ली में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) का विवाद अभी थमा नहीं था कि अब इसकी तपिश लखनऊ की सेंट्रल यूनिवर्सिटी बाबा साहेब अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय (BBAU) में पहुंच गई है। यहां पर देवी देवताओं को लेकर दो छात्र गुटों के बीच ठन गई है।

पढ़ें :- आरएसएस पूरब भाग के कार्यकर्ताओं ने किया योग, फिर बनाई अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस को सफल बनाने की योजना

इसके तहत राजधानी लखनऊ स्थिति के बाबा साहेब अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय (BBAU) में आपत्तिजनक पोस्टर देखने के बाद कैंपस का माहौल गर्म हो गया है। इन पोस्टरों में हिंदू देवी देवताओं को आपत्तिजनक स्थिति में दिखाया गया था। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) ने इस पोस्टरों का विरोध किया है।

बता दें कि SFI ने कैंपस में बने मंदिर को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। SFI छात्र नेताओं की मांग है कि अगर कैंपस में मंदिर है तो यहां मस्जिद भी बनाया जाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि विश्वविद्यालय प्रशासन कैंपस का भगवाकरण करना चाहता है। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन कैंपस में RSS का ऑफिस खुलवाना चाहता है। बकौल SFI, विश्वविद्यालय को गौशाला नहीं प्रयोगशाला चाहिए। वहीं इसके जवाब में ABVP ने कहा कि धर्म हर छात्र का स्वतंत्र मुद्दा है। इसको चुनने का अधिकार सिर्फ छात्र को है।

बता दें कि हाल ही जेएनयू (JNU)  में भी रामनवमी के मौके पर छात्रों के दो गुटों में हिंसक झड़प हो गई थी। यहां भी एक पक्ष का आरोप था कि रामनवमी जैसे महापर्व के मौके पर नॉनवेज परोसा जा रहा है। वहीं दूसरी पक्ष का कहना था कि छात्रों को जबरन नॉनवेज खाने से रोका जा रहा था, इस मामले का असर सियासी हलकों में भी देखने को मिला था।

पढ़ें :- UPSC टाॅपर्स लड़कियों की पढ़ें सफलता की कहानी और जानें सब कुछ
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...