1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. 16 मई को चंद्र ग्रहण 2022: देखिये प्राकृतिक घटना के बुरे प्रभावों से बचने के 7 उपाय

16 मई को चंद्र ग्रहण 2022: देखिये प्राकृतिक घटना के बुरे प्रभावों से बचने के 7 उपाय

साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण मई के महीने में लगने जा रहा है 2022 में केवल दो चंद्र ग्रहण होंगे और दोनों चंद्र ग्रहण पूरे होंगे।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

साल 2022 का पहला चंद्र ग्रहण मई के महीने में लगने जा रहा है 2022 में केवल दो चंद्र ग्रहण होंगे और दोनों चंद्र ग्रहण पूरे होंगे। इससे पहले साल 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल को लगा था। अब 15 दिन बाद यानी 16 मई को चंद्र ग्रहण है।

पढ़ें :- पंचांग: शुक्रवार, 20 मई 2022

यह दिन बौद्ध पूर्णिमा के साथ मेल खा रहा है। पंचांग के अनुसार चंद्र ग्रहण सुबह 07:02 बजे से शुरू होकर दोपहर 12:20 बजे खत्म होगा हालांकि यह चंद्र ग्रहण भारत में नहीं दिखेगा

मान्यताओं के अनुसार चंद्र ग्रहण के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है। बल्कि इस दौरान ग्रहण के दुष्प्रभाव से बचने के लिए कुछ खास उपाय करने चाहिए जिससे ग्रहण का बुरा प्रभाव आप पर न पड़े। इन उपायों को अपनाएं ताकि ग्रहण के बुरे प्रभाव आपसे दूर रहे

मान्यता के अनुसार चंद्र ग्रहण के दौरान गुरु मंत्र का जाप करना चाहिए। गुरु मंत्र है ‘O ग्रां ग्रीन ग्रुन्स: गुरुवे नमः इस मंत्र का जाप करना फलदायी माना जाता है।

इसके अलावा इस दौरान महामृत्युंजय मंत्र का भी जाप करना चाहिए। ऐसा करने से बीमारियां दूर रहेंगी। कहा जाता है कि चंद्र ग्रहण के दौरान तुलसी का पत्ता मुंह में रखना चाहिए ऐसा करने से आप ग्रहण के दुष्प्रभाव से बच जाएंगे।

पढ़ें :- पंचांग: बुधवार, 18 मई, 2022

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...