1. हिन्दी समाचार
  2. इस साल चन्द्र ग्रहण पर नहीं दिखेगा ‘सुपरमून’

इस साल चन्द्र ग्रहण पर नहीं दिखेगा ‘सुपरमून’

Lunar Eclipse Will Not Be A Super Moon

By आस्था सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। वर्ष 2020 का पहला चंद्र ग्रहण 10 जनवरी को लगने जा रहा है, यह चंद्र ग्रहण शुक्रवार रात तकरीबन 10 बजकर 37 मिनट पर लगेगा। चंद्र ग्रहण की रात लोगों में सुपरमून देखने की ललक अभी से देखने को मिल रही है, हालांकि इसके लिए उन्हें थोड़ा इंतजार करना होगा। वैज्ञानिकों का कहना है कि इस तारीख को रात में चांद निकलेगा जरूर, लेकिन ये ‘सुपरमून’ नहीं होगा। यह एक वलयाकार चंद्र ग्रहण होगा। आइए जानते हैं कब दिखता है सुपरमून…

पढ़ें :- ऑस्ट्रेलिया से जीत के बाद विराट कोहली ने बताया किस खिलाड़ी की वजह से मैच जीते

कब दिखता है सुपरमून

  • चंद्र ग्रहण के दौरान सुपरमून का बनना एक खगोलीय घटना है, इस दौरान चंद्रमा पृथ्वी के सबसे करीब होता है और दूध की तरह चमकता है।
  • सबसे करीब होने वाला चंद्रमा पेरिगी मून (363300 किमी) है और सबसे दूर वाली स्थिति को अपोगी (405500 किमी) कहा जाता है।
  • चांद के इस स्थिति में आने में अभी चार दिन का ढाई दिन का वक्त बाकी है।
  • एस्ट्रोलॉजर रिचर्ड नॉले का कहना है कि साल 2020 में ऐसे दो चंद्र ग्रहण होंगे जब हम सुपरमून को पृथ्वी के अलग-अलग हिस्सों से देख सकेंगे।

साल 2020 में 9 मार्च को होने वाले चंद्र ग्रहण के वक्त आसमान में पूरा चांद देख सकेंगे। सुपरमून देखने का अगला मौका 8 अप्रैल को इसी साल आएगा।

बता दें कि 10 जनवरी को 2020 का पहला चंद्र ग्रहण लगने जा रहा है, यह चंद्र ग्रहण शुक्रवार रात तकरीबन 10 बजकर 37 मिनट पर होगा। ऐसे में चंद्र ग्रहण की रात को कई लोगों में सुपरमून देखने की जिज्ञासा अभी से जाग रही है। हालांकि अभी इसके लिए उन्हें थोड़ा इंतजार करना होगा। बताया जा रहा है कि इस तारीख को रात में चांद निकलेगा जरूर, लेकिन ये ‘सुपरमून’ नहीं होगा। यह एक वलयाकार चंद्र ग्रहण होगा।

पढ़ें :- मनी लॉन्ड्रिंग केस : भगोड़े विजय माल्या पर शिकंजा, 14 करोड़ की प्रॉपर्टी ईडी ने की जब्त

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...