करुणानिधि समाधि मामले पर हाई कोर्ट ने मरीना बीच पर दफनाने की दी इजाज़त

karunanidhi,करुणानिधि समाधि मामला , हाई कोर्ट , मरीना बीच
करुणानिधि समाधि मामले पर हाई कोर्ट ने मरीना बीच पर दफनाने की दी इजाज़त

M Karunanidhi Death News

चेन्नई। दक्षिण भारत के दिग्गज नेता एम करुणानिधि का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार की शाम निधन हो गया जिसके बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ उठी। चेन्नई में रात में बवाल तब मच गया जब राज्य सरकार ने एम. करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह देने से मना कर दिया। करुणानिधि के निधन के बाद विपक्षी डीएमके ने मांग की थी कि करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह दी जाए इसपर जब सरकार ने इनकार कर दिया तो चेन्नई के कावेरी हॉस्पिटल के बाहर डीएमके समर्थकों ने खूब हंगामा किया। हालांकि अब हाईकोर्ट ने मरीना बीच पर करुणानिधि के अंतिम संस्कार की अनुमति दे दी है।

गौरतलब है कि करुणानिधि के बेटे एमके स्टालिन ने तमिलनाडु सरकार से मरीना बीच पर दिवंगत नेता के मार्गदर्शक सीएन अन्नादुरई के समाधि परिसर में जगह देने की मांग की थी। हालांकि, राज्य सरकार ने डीएमके की मांग को खारिज कर दिया था। जिसके बाद डीएमके ने मद्रास हाईकोर्ट का रुख किया। हाईकोर्ट के फैसले के बाद स्टालिन बेहद भावुक हो गए।

हाईकोर्ट ने खारिज की सभी याचिकाएं

मद्रास हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान ट्रैफिक रामास्वामी, के बालू और दुरईस्वािमी की याचिका को खारिज कर दिया। इन सभी ने मरीना बीच पर करुणानिधि के समाधि स्थल का विरोध किया था। हाईकोर्ट ने याचिकाकर्ता ट्रैफिक रामास्वामी के वकील को निर्देश देते हुए कहा कि वो ज्ञापन सौंप कर बताएं कि उन्हें करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने में कोई आपत्ति नहीं है। जिसके बाद वकील ने कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश के सामने ज्ञापन सौंपा।

चेन्नई। दक्षिण भारत के दिग्गज नेता एम करुणानिधि का लंबी बीमारी के बाद मंगलवार की शाम निधन हो गया जिसके बाद पूरे देश में शोक की लहर दौड़ उठी। चेन्नई में रात में बवाल तब मच गया जब राज्य सरकार ने एम. करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह देने से मना कर दिया। करुणानिधि के निधन के बाद विपक्षी डीएमके ने मांग की थी कि करुणानिधि को दफनाने के लिए मरीना बीच पर जगह दी जाए इसपर…