Madhuri Dixit Birthday: बचपन का सपना नहीं हुआ साकार, ऐसे किया फिल्मी जगत में प्रवेश

Madhuri Dixit
Madhuri Dixit Birthday: बचपन का सपना नहीं हुआ साकार, ऐसे किया फिल्मी जगत में प्रवेश

मुंबई। बॉलीवुड की सबसे लोकप्रिय अदाकारा और डांसिंग क्वीन माधुरी दीक्षित का आज जन्मदिन है। 15 मई 1967 को मुंबई में जन्मीं माधुरी आज अपना 52वां जन्मदिन मना रही हैं। आज भी बॉलीवुड में माधुरी का जादू बरकरार है और वे आज भी फिल्मों में अभिनय कर रही हैं। पद्म श्री पुरस्कार समेत दर्जनों प्रतिष्ठित अवार्ड जीत चुकी माधुरी दीक्षित हिंदी सिनेमा की ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्हें 14 बार फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित किया गया, जिनमें से चार बार वो विजेता रही हैं।

Madhuri Dixit Birthday :

दरअसल, माधुरी दीक्षित ने अपने फिल्मी करियर के शुरुआती सफर में कुछ खास सफलता नहीं हासिल की। साल 1988 में आई फिल्म ‘दयावान’ में अपने से 21 साल बड़े उम्र के एक्टर विनोद खन्ना के साथ किस सीन को लेकर उन्हे काफी शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ा था। माधुरी की फिल्म ‘तेजाब’ काफी सफल रही, जिसके बाद उनके करियर का ग्राफ बढ़ता चला गया। तेजाब फिल्म में माधुरी को बेहतरीन एक्टिंग के लिए फिल्मफेयर अवार्ड के लिए नॉमिनेट भी किया गया था।

इसी फिल्म का एक गाना ‘एक दो तीन’ आज भी माधुरी दीक्षित का आइकॉनिक गीत माना जाता है। इस फिल्म में अभिनेता अनिल कपूर के साथ उनकी जोड़ी को खूब पसंद किया गया था। इसके बाद माधुरी और अनिल ने कई फिल्मों में साथ काम किया। तेज़ाब के बाद माधुरी ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और हिंदी सिनेमा में बैक-टू बैक कई हिट फिल्में दीं।

वहीं फिल्मी जगत के शुरूआती दिनों में माधुरी का नाम अभिनेता अनिल कपूर से लेकर अभिनेता संजय दत्त तक के साथ जुड़ा। अनिल के साथ राम लखन तो संजय के साथ साजन फिल्म के समय माधुरी की नजदीकियां बढ़ीं। लेकिन, उनका यह रिश्ता कुछ ही समय चल सका। माधुरी दीक्षित की शादी डॉ. श्रीराम नेने के साथ 1999 में हुई। उनके दो बच्चे हैं, जिनमें एक का नाम रियान और दूसरे का एरिन नेने है।

बचपन से बनना चाहती थी डॉक्टर

माधुरी को बचपन से ही डॉक्टर बनने की चाह थी। माधुरी ने मुंबई यूनिवर्सिटी से बीए किया था। माधुरी जब केवल तीन साल की थीं, उन्होंने डांस सीखना शुरू कर दिया था। लेकिन आठ साल की उम्र होने के बाद उन्होंने क्लासिकल प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था और वह उनका पहला बड़ा परफोर्मेंस था। माधुरी के मुताबिक वह जब टीनेज थीं, उस वक्त वह अपनी बहनों के साथ डांस क्लास लेती थीं और वहां बच्चों को डांस सिखाती थीं।

फिल्मों की बात करें तो माधुरी दीक्षित कुछ दिनों पहले मराठी फिल्म बकेट लिस्ट में नजर आई थी। पहली बार मराठी फिल्म में काम करने वाली माधुरी दीक्षित ने उनके काम करने के अनुभव के बारे में कुछ दिन पहले बताया था कि वह एक लंबे समय से एक ऐसी फिल्म में काम करना चाहती थी, जो कि साधारण महिलाओं के जीवन से जुड़ी हुई हो। इसके चलते जब उनके सामने इस फिल्म का प्रस्ताव आया तो सबसे पहले उन्होंने फिल्म का नरेशन सुना, जिसके बाद वह उन्हें पसंद आया और उन्होंने इस फिल्म को करने के लिए हां कहा। इस फिल्म में उनके अलावा सुमित राघवन की भी अहम भूमिका है।

25 साल बाद एक बार फिर संजय दत्त के साथ माधुरी नजर आई। फिल्म कलंक में संजय और माधुरी की जोड़ी को एक बार फिर बड़े पर्दे पर देखा गया। इस फिल्म को करण जौहर ने प्रोड्यूस किया था।

मुंबई। बॉलीवुड की सबसे लोकप्रिय अदाकारा और डांसिंग क्वीन माधुरी दीक्षित का आज जन्मदिन है। 15 मई 1967 को मुंबई में जन्मीं माधुरी आज अपना 52वां जन्मदिन मना रही हैं। आज भी बॉलीवुड में माधुरी का जादू बरकरार है और वे आज भी फिल्मों में अभिनय कर रही हैं। पद्म श्री पुरस्कार समेत दर्जनों प्रतिष्ठित अवार्ड जीत चुकी माधुरी दीक्षित हिंदी सिनेमा की ऐसी अभिनेत्री हैं जिन्हें 14 बार फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामित किया गया, जिनमें से चार बार वो विजेता रही हैं। दरअसल, माधुरी दीक्षित ने अपने फिल्मी करियर के शुरुआती सफर में कुछ खास सफलता नहीं हासिल की। साल 1988 में आई फिल्म 'दयावान' में अपने से 21 साल बड़े उम्र के एक्टर विनोद खन्ना के साथ किस सीन को लेकर उन्हे काफी शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ा था। माधुरी की फिल्म 'तेजाब' काफी सफल रही, जिसके बाद उनके करियर का ग्राफ बढ़ता चला गया। तेजाब फिल्म में माधुरी को बेहतरीन एक्टिंग के लिए फिल्मफेयर अवार्ड के लिए नॉमिनेट भी किया गया था। इसी फिल्म का एक गाना 'एक दो तीन' आज भी माधुरी दीक्षित का आइकॉनिक गीत माना जाता है। इस फिल्म में अभिनेता अनिल कपूर के साथ उनकी जोड़ी को खूब पसंद किया गया था। इसके बाद माधुरी और अनिल ने कई फिल्मों में साथ काम किया। तेज़ाब के बाद माधुरी ने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और हिंदी सिनेमा में बैक-टू बैक कई हिट फिल्में दीं। वहीं फिल्मी जगत के शुरूआती दिनों में माधुरी का नाम अभिनेता अनिल कपूर से लेकर अभिनेता संजय दत्त तक के साथ जुड़ा। अनिल के साथ राम लखन तो संजय के साथ साजन फिल्म के समय माधुरी की नजदीकियां बढ़ीं। लेकिन, उनका यह रिश्ता कुछ ही समय चल सका। माधुरी दीक्षित की शादी डॉ. श्रीराम नेने के साथ 1999 में हुई। उनके दो बच्चे हैं, जिनमें एक का नाम रियान और दूसरे का एरिन नेने है।

बचपन से बनना चाहती थी डॉक्टर

माधुरी को बचपन से ही डॉक्टर बनने की चाह थी। माधुरी ने मुंबई यूनिवर्सिटी से बीए किया था। माधुरी जब केवल तीन साल की थीं, उन्होंने डांस सीखना शुरू कर दिया था। लेकिन आठ साल की उम्र होने के बाद उन्होंने क्लासिकल प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था और वह उनका पहला बड़ा परफोर्मेंस था। माधुरी के मुताबिक वह जब टीनेज थीं, उस वक्त वह अपनी बहनों के साथ डांस क्लास लेती थीं और वहां बच्चों को डांस सिखाती थीं। फिल्मों की बात करें तो माधुरी दीक्षित कुछ दिनों पहले मराठी फिल्म बकेट लिस्ट में नजर आई थी। पहली बार मराठी फिल्म में काम करने वाली माधुरी दीक्षित ने उनके काम करने के अनुभव के बारे में कुछ दिन पहले बताया था कि वह एक लंबे समय से एक ऐसी फिल्म में काम करना चाहती थी, जो कि साधारण महिलाओं के जीवन से जुड़ी हुई हो। इसके चलते जब उनके सामने इस फिल्म का प्रस्ताव आया तो सबसे पहले उन्होंने फिल्म का नरेशन सुना, जिसके बाद वह उन्हें पसंद आया और उन्होंने इस फिल्म को करने के लिए हां कहा। इस फिल्म में उनके अलावा सुमित राघवन की भी अहम भूमिका है। 25 साल बाद एक बार फिर संजय दत्त के साथ माधुरी नजर आई। फिल्म कलंक में संजय और माधुरी की जोड़ी को एक बार फिर बड़े पर्दे पर देखा गया। इस फिल्म को करण जौहर ने प्रोड्यूस किया था।