मध्यप्रदेश: नाई ने एक ही कपड़े से कर दी हजामत, 6 लोग हुए कोरोना संक्रमित

nai
मध्यप्रदेश: नाई ने एक ही कपड़े से कर दी हजामत, 6 लोग हुए कोरोना संक्रमित

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के गांव बड़गांव में छह लोगों के कोरोना संक्रमण की चपेट में होने से हड़कंप मच गया है। इनमें से 6 केस एक ही गांव के हैं। गांव के एक नाई ने यह संक्रमण फैलाया है। दरअसल, खरगोन के बड़गांव में एक नाई ने एक ही संक्रमित कपड़े से कई लोगों की कटिंग और शेविंग कर दी। एक ही कपड़े का इस्तेमाल होने से कोरोना का संक्रमण लोगों मे फैलता रहा। इस बारे में पता चलते ही गांव की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं।

Madhya Pradesh Barber Shaved With One Cloth 6 People Got Corona Infected :

युवक का इलाज हुआ और वह ठीक होकर अपने घर चला गया। वहीं जिन लोगों ने नाई के यहां से दाढ़ी-कटिंग करवाई, जो उसके संपर्क में आए उनमें से 26 लोगों के पांच अप्रैल को नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए। उनमें से 17 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। जबकि बचे हुए नौ में से छह लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

बताया जा रहा है कि इन सभी की शेविंग, कटिंग एक ही कपड़े से हुई थी। बीएमओ डॉक्टर दीपक वर्मा का कहना है कि अभी शेष तीन लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। पॉजिटिव मरीजों को रात में ही अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जहां उनका इलाज शुरू हो गया है।

डॉक्टर वर्मा ने बताया कि गांव में सर्वे के लिए एक टीम को भेजा गया है। वहीं मरीजों के 34 परिजनों को होम क्वारंटीन (एकांतवास) किया गया है। इसके अलावा पंचायत गांव को सैनिटाइज कर रही है। गांव को सील कर दिया गया है। क्षेत्र में पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया गया है।

नायब तहसीलदार ने बताया कि गोगावां में जिस परिवार की 70 साल की महिला की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हुई थी अब उसी परिवार की तीन साल की बच्ची वायरस की चपेट में मिली है। उसे होम क्वारंटीन करके इलाज किया जा रहा है। वहीं परिवार के अन्य सदस्यों की टेस्ट रिपोर्ट आना शेष है।

नई दिल्ली। मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के गांव बड़गांव में छह लोगों के कोरोना संक्रमण की चपेट में होने से हड़कंप मच गया है। इनमें से 6 केस एक ही गांव के हैं। गांव के एक नाई ने यह संक्रमण फैलाया है। दरअसल, खरगोन के बड़गांव में एक नाई ने एक ही संक्रमित कपड़े से कई लोगों की कटिंग और शेविंग कर दी। एक ही कपड़े का इस्तेमाल होने से कोरोना का संक्रमण लोगों मे फैलता रहा। इस बारे में पता चलते ही गांव की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं। युवक का इलाज हुआ और वह ठीक होकर अपने घर चला गया। वहीं जिन लोगों ने नाई के यहां से दाढ़ी-कटिंग करवाई, जो उसके संपर्क में आए उनमें से 26 लोगों के पांच अप्रैल को नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गए। उनमें से 17 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। जबकि बचे हुए नौ में से छह लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया जा रहा है कि इन सभी की शेविंग, कटिंग एक ही कपड़े से हुई थी। बीएमओ डॉक्टर दीपक वर्मा का कहना है कि अभी शेष तीन लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। पॉजिटिव मरीजों को रात में ही अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। जहां उनका इलाज शुरू हो गया है। डॉक्टर वर्मा ने बताया कि गांव में सर्वे के लिए एक टीम को भेजा गया है। वहीं मरीजों के 34 परिजनों को होम क्वारंटीन (एकांतवास) किया गया है। इसके अलावा पंचायत गांव को सैनिटाइज कर रही है। गांव को सील कर दिया गया है। क्षेत्र में पुलिसकर्मियों को भी तैनात किया गया है। नायब तहसीलदार ने बताया कि गोगावां में जिस परिवार की 70 साल की महिला की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हुई थी अब उसी परिवार की तीन साल की बच्ची वायरस की चपेट में मिली है। उसे होम क्वारंटीन करके इलाज किया जा रहा है। वहीं परिवार के अन्य सदस्यों की टेस्ट रिपोर्ट आना शेष है।