मध्य प्रदेश कांग्रेस को बड़ा झटका, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

vivek tankha
मध्य प्रदेश कांग्रेस को बड़ा झटका, राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा ने सभी पदों से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की बड़ी हार के बाद अब इसकी जिम्मेदारी लेने के लिए पार्टी में उहापोह मची हुई है। इसी बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। यहां से राज्यसभा सांसद और पार्टी के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा ने संगठन से जुड़े सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होने ट्वीट करते हुए अपने इस्तीफे की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने पार्टी प्रमुख राहुल गांधी से संगठन में आमूलचूल परिवर्तन लाने की भी अपील की।

Madhya Pradesh Congress Big Blow Rajya Sabha Mp Vivek Tankha Resigns From All Posts :

बता दें विवेक तन्खा अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के विधि, सूचना का अधिकार समेत कई विभागों में बड़े पदों पर थे। उन्होने इस सभी पदों से इस्तीफे की घोषणा करते हुए कहा कि हम सभी को अपने पार्टी पदों से इस्तीफा देते हुए राहुल गांधी को अपनी टीम के चयन के लिए मुक्तहस्त दे देना चाहिए। साथ ही उन्होने कहा कि वे इस बारे में मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान का स्वागत करते हैं।

तन्खा ने राहुल गांधी को संबोधित करते हुए ये भी कहा कि वे पार्टी को एक लड़ाका के तौर पर दोबारा उठ खड़े होने के लिए पार्टी में आमूलचूल परिवर्तन लाएं। साथ ही कहा कि हर परिस्थिती में वो राहुल गांधी के साथ हैं। हालिया लोकसभा चुनाव में तन्खा स्वयं भी भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष राकेश सिंह से जबलपुर संसदीय सीट से चुनाव हार चुके हैं।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों में कांग्रेस की बड़ी हार के बाद अब इसकी जिम्मेदारी लेने के लिए पार्टी में उहापोह मची हुई है। इसी बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। यहां से राज्यसभा सांसद और पार्टी के वरिष्ठ नेता विवेक तन्खा ने संगठन से जुड़े सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है। उन्होने ट्वीट करते हुए अपने इस्तीफे की जानकारी दी। साथ ही उन्होंने पार्टी प्रमुख राहुल गांधी से संगठन में आमूलचूल परिवर्तन लाने की भी अपील की। बता दें विवेक तन्खा अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के विधि, सूचना का अधिकार समेत कई विभागों में बड़े पदों पर थे। उन्होने इस सभी पदों से इस्तीफे की घोषणा करते हुए कहा कि हम सभी को अपने पार्टी पदों से इस्तीफा देते हुए राहुल गांधी को अपनी टीम के चयन के लिए मुक्तहस्त दे देना चाहिए। साथ ही उन्होने कहा कि वे इस बारे में मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान का स्वागत करते हैं। तन्खा ने राहुल गांधी को संबोधित करते हुए ये भी कहा कि वे पार्टी को एक लड़ाका के तौर पर दोबारा उठ खड़े होने के लिए पार्टी में आमूलचूल परिवर्तन लाएं। साथ ही कहा कि हर परिस्थिती में वो राहुल गांधी के साथ हैं। हालिया लोकसभा चुनाव में तन्खा स्वयं भी भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष राकेश सिंह से जबलपुर संसदीय सीट से चुनाव हार चुके हैं।