1. हिन्दी समाचार
  2. मध्य प्रदेश: घर पहुंचने के लिए बैलगाड़ी में जुता मजदूर परिवार, वीडियो वारयल

मध्य प्रदेश: घर पहुंचने के लिए बैलगाड़ी में जुता मजदूर परिवार, वीडियो वारयल

Madhya Pradesh Workers Family Mobilized In Bullock Cart To Reach Home Video Varyal

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देशव्यापी लॉकडाउन के बीच एक वीडियो में तंगहाली का शिकार मजदूर परिवार बैल के साथ जुतकर राष्ट्रीय राजमार्ग पर गाड़ी खींचते दिखा है। मध्यप्रदेश के इंदौर जिले से होकर गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग -तीन (आगरा-मुंबई राजमार्ग) के इस वीडियो में एक बैलगाड़ी आगे बढ़ती दिखाई दे रही है जिसमें एक बैल और एक व्यक्ति साथ-साथ जुते नजर आते हैं।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैली बवालः दिल्ली पुलिस कमिश्नर बोले-हिंसा में शामिल किसी को नहीं छोड़ा जायेगा

घर के जरूरी सामान से लदी बैलगाड़ी में एक महिला और एक युवक बैठे दिखाई दे रहे हैं। बैल के साथ जुतकर गाड़ी खींचता दिखा व्यक्ति वीडियो में अपना नाम राहुल बता रहा है और उसकी उम्र 40 साल के आस-पास है। बैल के साथ गाड़ी में जुता व्यक्ति वीडियो में कहते सुनाई पड़ता है, मैं (इंदौर शहर के पास स्थित) पत्थरमुंडला गांव का रहने वाला हूं और (नजदीकी कस्बे) महू से निकला हूं। गाड़ी में मेरी भाभी और छोटा भाई बैठे हैं। हम गांव-देहातों की ओर जा रहे हैं।

बैल के साथ गाड़ी में जुते व्यक्ति ने लाचारगी भरे स्वर में कहा, बसें भी नहीं चल रही हैं। अगर बसें चलतीं, तो हम बस से ही सफर करते। मेरे पिता, मेरा भाई और मेरी बहन आगे पैदल चले गए हैं। राहुल ने बताया कि उसका परिवार गांव-गांव घूमकर बैलों की खरीद-फरोख्त का काम करता है।

राहुल ने कहा, आखिर हम क्या करें? मेरे पास दो बैल थे। लेकिन मेरे घर में आटा और खाना पकाने का दूसरा सामान खत्म हो गया था। इसके चलते मैंने 15,000 रुपये कीमत का एक बैल केवल 5,000 रुपये में 15 दिन पहले ही बेच दिया ताकि मैं अपने घर का खर्च चला सकूं।

पढ़ें :- ट्रैक्टर रैलीः कांग्रेस का आरोप, उपद्रवियों को छोड़ संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं पर दर्ज हो रहा मुकदमा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...