1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ट्रक से टकराई सवारियों से भरी मैजिक गाड़ी,दो की मौत,आठ गंभीर घायल

ट्रक से टकराई सवारियों से भरी मैजिक गाड़ी,दो की मौत,आठ गंभीर घायल

ट्रक से टकराई सवारियों से भरी मैजिक गाड़ी, दो की मौत,आठ घायल

By ब्यूरो लखनऊ 
Updated Date

महराजगंज:फरेंदा से सवारी भरकर महराजगंज के लिए निकली एक मैजिक पकड़ी के पास ट्रक से टकरा गई। इस हादसे में मैजिक में बैठे दो लोगों की मौत हो गई, वहीं आठ लोग घायल हो गए हैं। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहीं घटना के बाद मौके पर चीख-पुकार मच गई।
यह है मामला
फरेंदा से सवारियों को लेकर मैजिक महराजगंज के लिए सुबह निकली थी। करीब साढ़े छह बजे पकड़ी नौनिया गांव के पास सामने से आ रही ट्रक से भिड़ गई। इसमें आगे बैठे चौक थाना क्षेत्र के करौता निवासी देवेश चौधरी की मौके पर ही मृत्यु हो गई। दुर्घटना के तुरंत बाद पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को जिला अस्पताल पहुंचाया। घायलों में मृतक देवेश चौधरी के पिता रामेश्वर चौधरी, करौता निवासी भूपत, निचलौल थाना क्षेत्र के पिपरा काजी निवासी सराफत, मेघौली कला निवासी शिवमणि त्रिपाठी, सदर कोतवाली के पिपरा रसूलपुर निवासी रईस, फरेंदा के शास्त्रीनगर वार्ड निवासी अजय कुमार बरनवाल के अलावा उन्नाव जिला थाना विद्यापुर निवासी सत्येंद्र प्रताप सिंह, बलरामपुर के गैसड़ी निवासी अब्दुल हमीद और अब्दुल वाहिद और सिद्धार्थनगर के बभनी निवासी शमशाद के रूप में हुई।
अस्पताल पहुंचने से पहले दो लोगों ने तोड़ा दम
चिकित्सकों ने घायलों में रामेश्वर चौधरी और अजय कुमार बरनवाल की हालत गंभीर देखते हुए उन्हें मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया है। जहां अस्पताल पहुंचने से पूर्व ही अजय कुमार ने भी दम तोड़ दिया। सदर कोतवाल रवि कुमार राय ने बताया कि घटना में दो लोगों की मौत हुई है। शेष सभी घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, मामले में जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।
दुर्घटना देखकर सेवानिवृत वनकर्मी का हुआ ब्रेन हेमरेज, मौत
पकड़ी चौराहे के पास हुई दुर्घटना के बाद हंगामा मच गया। पूरे चौराहे पर भीड़ जुट गई। वहीं इस हृदयविदारक घटना को देखकर एक सेवानिवृत वनकर्मी काे ब्रेन हेमरेज हो गया। जिसे उपचार के लिए ले जाते समय मृत्यु हो गई। पकड़ी नौनिया गांव निवासी पट्टू वर्मा वन विभाग से सेवानिवृत वनमाली थे, घटना के समय वह वहीं चौराहे पर खड़े थे, आंखाें के सामने हुई दुर्घटना के बाद वह घर पहुंचे और पूरी घटना स्वजन को सुनाते हुए अचेत होकर गिर पड़े। स्वजन उन्हें लेकर आनन-फानन में गोरखपुर के लिए रवाना हुए, जहां अस्पताल पहुंचने से पहले ही उनकी मृत्यु हो गई। चिकित्सकों ने ब्रेन हेमरेज होना मृत्यु का कारण बताया है।

पढ़ें :- गोरखपुर में Jio True 5G Service प्रारम्भ, वाराणसी के बाद पूर्वांचल का दूसरा शहर बना

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...