1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Mahant Narendra Giri Death : एएसपी , बीजेपी और सपा के नेता समेत गनर भी जांच के दायरे में

Mahant Narendra Giri Death : एएसपी , बीजेपी और सपा के नेता समेत गनर भी जांच के दायरे में

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की आत्महत्या (Narendra Giri Suicide Case) के मामले में अब पुलिस (Police) जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है। इस मामले में अब पुलिस की जांच के घेरे में बीजेपी और समाजवादी पार्टी के नेताओं के साथ ही एक एडिशनल एसपी भी आ रहे हैं। बता दें कि महंत नरेंद्र गिरि और स्वामी आनंद गिरि के बीच हुए विवाद में एडिशनल एसपी ओपी पांडेय (Additional SP OP Pandey), बीजेपी नेता सुशील मिश्रा (BJP leader Sushil Mishra) और समाजवादी पार्टी इंदु प्रकाश मिश्रा (Samajwadi Party Indu Prakash Mishra) ने मध्यस्थता कराई थी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

प्रयागराज। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद (Akhil Bhartiya Akhara Parishad) के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की आत्महत्या (Narendra Giri Suicide Case) के मामले में अब पुलिस (Police) जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है। इस मामले में अब पुलिस की जांच के घेरे में बीजेपी और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेताओं के साथ ही एक एडिशनल एसपी भी आ रहे हैं। बता दें कि महंत नरेंद्र गिरि और स्वामी आनंद गिरि के बीच हुए विवाद में एडिशनल एसपी ओपी पांडेय (Additional SP OP Pandey), बीजेपी नेता सुशील मिश्रा (BJP leader Sushil Mishra) और समाजवादी पार्टी इंदु प्रकाश मिश्रा (Samajwadi Party Indu Prakash Mishra) ने मध्यस्थता कराई थी।

पढ़ें :- Mahant Narendra Giri Death : आनंद गिरी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

अब पुलिस इन तीनों से पूछताछ कर सकती है। बता दें कि पुलिस इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि आखिर जब समझौता हो गया था तो विवाद क्यों बरकरार रहा? पुलिस के मुताबिक महंत नरेंद्र गिरि के गनर से भी पूछताछ की जाएगी। पुलिस का कहना है कि जब महंत को वाई श्रेणी की सुरक्षा मिली हुई थी तो यह घटना हुई कैसे की इस बात की भी जांच की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक, एडिशनल एसपी ओपी पांडेय (Additional SP OP Pandey), बीजेपी नेता सुशील मिश्रा (BJP leader Sushil Mishra) और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता इंदु प्रकाश मिश्रा (Indu Prakash Mishra) दोनों ही संतों के करीबी रहे हैं। इन्होंने ही लखनऊ में एक बंद कमरे में दोनों के बीच समझौता कराया था। अब पुलिस इन तीनों से महंत नरेंद्र गिरी और आनंद गिरी के बीच के रिश्तों के बारे में पता लगाएगी। एएसपी ओपी पांडेय (ASP OP Pandey) मध्यस्थता के वक्त मुरादाबाद पीएसी (Moradabad PAC) में तैनात थे। पुलिस एडिशनल एसपी ओपी पांडेय (Additional SP OP Pandey) को गुरुवार को प्रयागराज (Prayagraj) बुला सकती है।

अगर समझौता कराना अपराध होता तो हम मठ नहीं जाते : सुशील मिश्रा 

महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) और स्वामी आनंद गिरि (Swami Anand Giri) के बीच समझौता कराने वाले बीजेपी नेता सुशील मिश्रा (BJP leader Sushil Mishra) ने बताया कि उस वक्त महंत नरेंद्र गिरि ने मुझसे कहा था कि आनंद गिरि (Anand Giri) मीडिया में मेरे बारे में उल्टी सीधी बात कर रहे हैं। उसके बाद हम लोगों ने मध्यस्थता करवाने के लिए आनंद गिरि (Anand Giri)  और महराज की मुलाकात करवाई थी। उन्होंने कहा कि हम लोग आनंद गिरि (Anand Giri)  को पहले नहीं जानते थे। आनंद गिरि (Anand Giri)  के बारे में हमें कुछ पता नहीं था, लेकिन दोनों ने बंद कमरे में जाकर बात की थी। अंदर क्या बात हुई यह हमें नहीं बताया गया था? मैं पुलिस की जांच में पूरा सहयोग करूंगा। पुलिस जो भी जानना चाहेगी मैं सब बताऊंगा। अगर समझौता कराना अपराध होता तो हम मठ नहीं जाते, मैने सब के भले के लिए समझौता कराया था।

पढ़ें :- Mahant Narendra Giri Death : योगी सरकार गृह मंत्रालय से कर सकती है CBI जांच की सिफारिश

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...