1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Maharashtra Cabinet Expansion : एकनाथ शिंदे PWD और शहरी विकास मंत्रालय , डिप्टी सीएम को मिला गृह और वित्त

Maharashtra Cabinet Expansion : एकनाथ शिंदे PWD और शहरी विकास मंत्रालय , डिप्टी सीएम को मिला गृह और वित्त

महाराष्ट्र कैबिनेट विस्तार (Maharashtra Cabinet Expansion ) के बाद आखिरकार विभागों का बंटवारा हो गया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Chief Minister Eknath Shinde) ने पीडब्ल्यूडी और शहरी विकास मंत्रालय (PWD and Urban Development Ministry) अपने पास रखा है। इसके अलावा डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस (Deputy CM Devendra Fadnavis) को गृह और वित्त मंत्रालय (Home and Finance Ministry) मिला है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

 मुंबई। महाराष्ट्र में लंबे इंतजार के बाद शिंदे सरकार के कैबिनेट विस्तार (Maharashtra Cabinet Expansion ) के बाद आखिरकार विभागों का बंटवारा हो गया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Chief Minister Eknath Shinde) ने पीडब्ल्यूडी और शहरी विकास मंत्रालय (PWD and Urban Development Ministry) अपने पास रखा है। इसके अलावा डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस (Deputy CM Devendra Fadnavis) को गृह और वित्त मंत्रालय (Home and Finance Ministry) मिला है। इसके साथ ही चंद्रकांत पाटिल (Chandrakant Patil) को शिक्षा मंत्रालय (Ministry of Education) का जिम्मा दिया गया है, तो सुधीर मुनघनीतवार को वन विभाग की जिम्मेदारी मिली है।

पढ़ें :- BJP और एकनाथ शिंदे की जोड़ी ने पंचायत चुनाव में दर्ज की बड़ी जीत

शिंदे मंत्रिमंडल में नवनियुक्त मंत्रियों के विभागों के आवंटन

मुख्यमंत्री के पास सामान्य प्रशासन, शहरी विकास, सूचना एवं प्रौद्योगिकी, सूचना एवं जनसंपर्क, लोक निर्माण (सार्वजनिक परियोजनाएं), परिवहन, विपणन, सामाजिक न्याय एवं विशेष सहायता, राहत एवं पुनर्वास, आपदा प्रबंधन, मृदा एवं जल संरक्षण, पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन, अल्पसंख्यक और औकाफ का मंत्रालय रहेगा। साथ ही उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के पास गृह, वित्त और योजना, कानून और न्याय, जल संसाधन और लाभ क्षेत्र विकास, आवास और ऊर्जा के विभाग रहेंगे।

अन्य 18 मंत्रियों के खाते इस प्रकार हैं:-
1. राधाकृष्णा विखे पाटिल – राजस्व, पशुपालन और डेयरी विकास
2. सुधीर मुनगंटीवार – वन, सांस्कृतिक गतिविधियां और मत्स्य पालन
3. चंद्रकांत पाटिल- उच्च और तकनीकी शिक्षा, कपड़ा उद्योग और संसदीय कार्य
4. डॉ विजयकुमार गावित – आदिवासी विकास
5. गिरीश महाजन – ग्राम विकास एवं पंचायती राज, चिकित्सा शिक्षा, खेलकूद एवं युवा कल्याण
6. गुलाबराव पाटिल – जल आपूर्ति और स्वच्छता
7. दादा भूसे – बंदरगाह और खदान
8. संजय राठौर – खाद्य एवं औषधि प्रशासन
9. सुरेश खाड़े – लेबर मंत्रालय
10. संदीपन भुमरे – रोजगार गारंटी योजना और बागवानी
11. उदय सामंत – उद्योग
12. तानाजी सावंत – सार्वजनिक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण
13. रवींद्र चव्हाण – लोक निर्माण (सार्वजनिक उद्यमों को छोड़कर), खाद्य और नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण
14. अब्दुल सत्तार – कृषि
15. दीपक केसरकर – स्कूली शिक्षा और मराठी भाषा
16. अतुल सावे – सहकारिता, अन्य पिछड़ा वर्ग और बहुजन कल्याण
17. शंभूराज देसाई – राज्य उत्पाद शुल्क
18. मंगल प्रभात लोढ़ा – पर्यटन, कौशल विकास और उद्यमिता, महिला और बाल विकास

बता दें कि शिंदे कैबिनेट में 9 अगस्त को कुल 18 मंत्रियों ने शपथ ली थी, जिसमें बीजेपी कोटे से 9 और शिंदे गुट से 9 मंत्री शामिल हैं। महाराष्ट्र मंत्री परिषद के सदस्यों की संख्या 20 है। शिंदे कैबिनेट विस्तार में किसी भी महिला नेता को मंत्री नहीं बनाया गया है। कैबिनेट में मराठा और ओबीसी समुदाय से आने वाले नेताओं को खास तवज्जो मिली है। हालांकि ब्राह्मण के साथ-साथ मुस्लिम, दलित और आदिवासी समुदाय को भी जगह देकर एक मजबूत सोशल इंजीनियरिंग बनाने की कोशिश की गई है।

पढ़ें :- Maharashtra Politics: सीएम शिंदे का तंज, कहा-हमने जून में ही एक बेहद मजबूत दही हांडी को तोड़ दिया था

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...