1. हिन्दी समाचार
  2. महाराष्ट्र संकट: राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने राजभवन पहुंचे मुख्यमंत्री फडणवीस

महाराष्ट्र संकट: राज्यपाल को इस्तीफा सौंपने राजभवन पहुंचे मुख्यमंत्री फडणवीस

Maharashtra Crisis Chief Minister Fadnavis Arrives At Raj Bhavan To Hand Over Resignation To Governor

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में अपने दूसरे कार्यकाल में महज 80 घंटे तक मुख्यमंत्री रहे भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपने के लिए राजभवन पहुंच चुके हैं। मंगलवार दोपहर पहले उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को अपना इस्तीफा सौंपा। इसके कुछ देर बाद ही मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भी प्रेस कॉफ्रेंस कर अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी है। प्रेस वार्ता खत्म करने के बाद वह राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपने पहुंच गए। इसके साथ ही महाराष्ट्र में एक साल पहले का कर्नाटक का राजनीतिक इतिहास दोहरा दिया गया है।

पढ़ें :- आत्मविश्वास, सकरात्मकता के साथ पूरी दुनिया के लिए करोड़ो भारतीयों का संदेश लेकर आया हूं

अजीत पवार के इस्तीफे की खबर सामने आते ही देवेंद्र फडणवीस के इस्तीफे की भी चर्चाएं शुरू हो गईं थीं। दरअसल सुप्रीम कोर्ट द्वारा बुधवार को लाइव टेलीकास्ट के जरिए फ्लोर टेस्ट का आदेश दिए जाने के बाद भाजपा के पास कोई रास्ता नहीं बचा था। देवेंद्र फडणवीस ने खुले तौर पर ये बात स्वीकर की कि उनके पास फिलहाल बहुमत नहीं है।

बता दें कि अजीत के इस्तीफे के कुछ देर बाद ही देवेंद्र फडणवीस ने दोपहर साढ़े तीन बजे मीडिया से वार्ता करने की घोषणा कर दी थी। उसी समय इस बात की चर्चा शुरू हो गई थी कि प्रेसवार्ता के दौरान देवेंद्र फडणवीस अपने इस्तीफे की घोषणा कर सकते हैं। साथ ही वह अगली रणनीति के बारे में भी मीडिया को जानकारी देंगे। मालूम हो कि अजीत पवार के इस्तीफे से थोड़ी देर पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने महाराष्ट्र को लेकर एक अहम बैठक की थी। माना जा रहा है कि इसी बैठक में मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के इस्तीफे का फैसला लिया गया था।

शनिवार को नाटकीय ढंग से ली थी शपथ

महाराष्ट्र में एक महीने से ज्यादा लंबे समय से चला आ रहा राजनीतिक ड्रामा शनिवार को चरम पर पहुंच गया था।राज्य में अचानक से राष्ट्रपति शासन हटाकर सुबह आठ बजे ही राज्यपाल ने भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस को मुख्यमंत्री और एनसीपी के अजीत पवार को उपमुख्यमंत्री पद की शपथ दिला दी थी। महाविकास अघाड़ी की तरफ से राज्यपाल के इस फैसले और महाराष्ट्र की नई सरकार को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देते हुए जल्द से जल्द फ्लोर टेस्ट कराने की मांग की थी।

पढ़ें :- बेहद आकर्षक लुक और दमदार क्षमता वाले इंजन से लैस होगी ट्रम्फ की ये बाइक

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...