1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Maharashtra-karnataka Border Row: सीमा विवाद को लेकर कर्नाटक सरकार ने कि बस सेवाएं निलंबित, जाने क्या है पूरा मामला

Maharashtra-karnataka Border Row: सीमा विवाद को लेकर कर्नाटक सरकार ने कि बस सेवाएं निलंबित, जाने क्या है पूरा मामला

महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (MSRTC) ने बुधवार को फैसला लेते हुए  कर्नाटक के लिए बस सेवाएं निलंबित कर दी हैं। यह फैसला सीमा विवाद के बीच पुलिस के फ्लैग सुरक्षा अलर्ट के बाद लिया गया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद से संबंधित आंदोलन के दौरान कर्नाटक के अंदर बसों को लक्षित और हमला किया जा सकता है।

By प्रिया सिंह 
Updated Date

Maharashtra-karnataka Border Row: महाराष्ट्र राज्य सड़क परिवहन निगम (MSRTC) ने बुधवार को फैसला लेते हुए  कर्नाटक के लिए बस सेवाएं निलंबित कर दी हैं। यह फैसला सीमा विवाद के बीच पुलिस के फ्लैग सुरक्षा अलर्ट के बाद लिया गया है। बताया जा रहा है कि महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद से संबंधित आंदोलन के दौरान कर्नाटक के अंदर बसों को लक्षित और हमला किया जा सकता है।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 Series: भारत ने न्यूजीलैंड को 168 रनों से हराया, सीरीज पर भी किया कब्जा

खबरों के मुताबिक बताया जा रहा है कि “यात्रियों और बसों की सुरक्षा के बारे में पुलिस से मंजूरी मिलने के बाद सेवाओं को फिर से शुरू करने का फैसला किया जाएगा।”

फडणवीस बोले- केंद्रीय गृह मंत्री से बात करुंगा

इस घटना को लेकर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि वह महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वह कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई से बात की थी।

फडणवीस ने कहा, “मैंने खुद कर्नाटक के मुख्यमंत्री से बात की है। हम सुनिश्चित करते हैं कि शरद पवार साहब को कर्नाटक जाने की कोई जरूरत नहीं है। मैं इस कर्नाटक विवाद के बारे में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से बात करूंगा और वह जल्द ही इस मामले को देखेंगे।”

शांति बनाए रखने और कानून व्यवस्था को हाथ में न लेने की अपील

बताया जा रहा है कि देवेंद्र फडणवीस ने महाराष्ट्र और कर्नाटक के लोगों से शांति बनाए रखने और कानून व्यवस्था को अपने हाथ में नहीं लेने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र कानून और व्यवस्था के लिए जाना जाता है और मैं महाराष्ट्र के लोगों से अनुरोध करता हूं कि वे कानून और व्यवस्था को अपने हाथ में न लें और सीमाओं पर शांति बनाए रखें।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 Series: शुभमन गिल के तूफानी शतक के साथ टीम इंडिया ने दिया न्यूजीलैंड को 235 रनों का लक्ष्य

बोम्मई और शिंदे ने भी फोन पर की बातचीत

इस बीच, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज एस बोम्मई और उनके महाराष्ट्र के समकक्ष एकनाथ शिंदे ने भी मंगलवार को फोन पर इस मुद्दे पर चर्चा की और इस बात पर सहमति जताई कि दोनों राज्यों को शांति, कानून व्यवस्था बनाए रखनी चाहिए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...