1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. महाराष्ट्र: हॉटस्पॉट बनें नागपुर और लातूर, 28 जिलों में कोरोना के मामलों में हुआ इजाफा

महाराष्ट्र: हॉटस्पॉट बनें नागपुर और लातूर, 28 जिलों में कोरोना के मामलों में हुआ इजाफा

By Manali Rastogi 
Updated Date

Maharashtra Nagpur And Latur Become Hotspots Corona Cases Increase In 28 Districts

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में एक बार फिर कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने रफ्तार पकड़ ली है। ऐसे में यहां रोजाना लगभग 1,000 मामले सामने आ रहे हैं। इस बीच कोरोना वायरस संक्रमण के मामले महाराष्ट्र के लातूर, हिंगोली, परभणी, नादेड़ जैसे इलाकों में भारी संख्या में सामने आ रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, प्रदेश में एक्टिव मामलों की संख्या में बड़ी वृद्धि दर्ज की जा रही है। यही नहीं, अब तो राज्य में कोरोना संक्रमण के नए हॉटस्पॉट के तौर पर लातूर और नागपुर के अलावा विदर्भ, अमरावती, अकोला और यवतमाल भी उभरे हैं।

पढ़ें :- पीएम मोदी का बड़ा आदेश, 1 मई से 18 से अधिक उम्र के सभी लोगों को लगेगी वैक्सीन

विदर्भ फरवरी में बना कोविड-19 का केंद्र

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोविड-19 के बढ़ते केस का विदर्भ फरवरी में केंद्र बन चुका है। विदर्भ के बाद कोरोना के बढ़ते मामलों में नागपुर, पुणे, मुंबई, थाने और अमरावती का नंबर आता है। हैरान करने वाली बात तो ये है कि महाराष्ट्र के कुल एक्टिव केस की 65 फीसदी इन पांच जिलों में एक्टिव केस की संख्या है। यही नहीं, मीडिया रिपोर्ट्स में इस बात का दावा भी किया गया है कि 50 लाख से ज्यादा की आबादी नागपुर में रहती है, जिसकी वजह से यहां कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं और सामने आ रहे हैं।

अलर्ट मोड में आए महाराष्ट्र के पड़ोसी राज्य

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में अभी भी 68,810 एक्टिव केस मौजूद हैं, जबकि इसमें से 20,17,303 मरीज या तो ठीक हो चुके हैं या फिर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया है। यही नहीं, महाराष्ट्र में अब तक कोरोना वायरस के कारण 52,041 मरीजों की मृत्यु भी हो चुकी है। वहीं, इन सभी आंकड़ों में लगातार इजाफा होता हुआ ही नजर आ रहा है। महाराष्ट्र में बढ़ते मामलों को देखते हुए पड़ोसी राज्य भी अलर्ट मोड पर आ चुके हैं। ऐसे में महाराष्ट्र आने और जाने वाले लोगों के लिए सख्त नियम भी जारी कर दिए गए हैं।

पढ़ें :- HC के लॉकडाउन आदेश का योगी सरकार ने किया खंडन, कहा- जीवन के साथ रोजी-रोटी भी बचानी है

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...