1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. महाराष्ट्र: शिवसेना, BJP का साथ छोड़ दे तो सकारात्मक रुख अपनाएगी NCP

महाराष्ट्र: शिवसेना, BJP का साथ छोड़ दे तो सकारात्मक रुख अपनाएगी NCP

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच चल रही खींचातानी में अब शरद पवार की एनसीपी पार्टी का भी काफी अहम रोल हो गया है। लगातार एनसीपी और शिवसेना के बीच बढ़ रही करीबियों की खबरे सामने आ रही हैं। वहीं अब एनसीपी नेता ने बयान दिया है कि अगर शिवसेना बीजेपी के बगैर ‘लोगों की सरकार बनाने को तैयार है, जिसकी छत्रपति शिवाजी महाराज ने कल्पना की थी, तो वह सकारात्मक रुख अपनाएगी।

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने पहले भी इसके संकेत दे दिये थे कि जरूरत पड़ी तो शिवसेना और एनसीपी के बीच बातचीत हो सकती है। लेकिन अब उन्होने कहा है कि अगर उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी लोगों के हित में कोई फैसला लेती है तो विकल्प उपलब्ध हो सकते हैं। वैसे तो कल एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ये साफ कर दिया था कि उनकी पार्टी विधानसभा में विपक्ष की भूमिका निभाएगी। लेकिन अब एनसीपी अपने इरादे बदल सकती है।

नवाब मलिक ने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘सरकार गठन की पहल शिवसेना की तरफ से होनी चाहिए.’ इस दौरान उन्होंने बीजेपी नेता सुधीर मुनगंटीवार के राष्ट्रपति शासन वाले बयान की भी आलोचना की। उन्होने कहा कि महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन थोपने का कोई प्रश्न ही नहीं है, उनकी पार्टी राज्य को लोकतांत्रिक तरीके से दिशा देने का प्रयास करेगी, कभी भी लोकतंत्र का गला नहीं घोंटने देंगी। जरूरत पड़ती है तो हम एक वैकल्पिक सरकार देने के लिए तैयार हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...