महाराष्ट्र : सरकार बनाने को लेकर मुंबई से लेकर दिल्ली तक बैठकों का दौर, एनसीपी-कांग्रेस के बीच फंसी शिवसेना

ncp and congress
महाराष्ट्र : सरकार बनाने को लेकर मुंबई से लेकर दिल्ली तक बैठकों का दौर, एनसीपी-कांग्रेस के बीच फंसी शिवसेना

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर एनसीपी—कांग्रेस और शिवसेना के बीच बातचीत जारी है लेकिन सरकार बनाने की तस्वीर स्पष्ट नहीं हो पा रही है। सीएम पद के लिए शिवसेना ने बीजेपी से अपनी 30 वर्ष पुरानी दोस्ती तोड़ दी है। इसके बावजूद भी वह सरकार नहीं बना सकी है। अब राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को दिया है। जिसे 24 घंटे में सरकार बनाने के लिए समर्थन पत्र सौंपना होगा।

Maharashtra Round Of Meetings From Mumbai To Delhi To Form Government :

सियासी समीकरण में एनसीपी और शिवसेना में काफी हद तक सरकार गठन के लिए सहमति बनती दिखी है, लेकिन आखिरी पेंच अब कांग्रेस के समर्थन पर अटका है। क्योंकि संजय निरुपम जैसे नेता शिवसेना के साथ सरकार बनाने के पक्ष में नहीं है। उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अहमद पटेल आज शाम तक मुंबई जाएंगे। जहां वह एनसीपी नेताओं से बात करेंगे।

मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, ‘एनसीपी और कांग्रेस में चुनाव पूर्व गठबंधन है और आखिरी फैसला सामूहिक बातचीत के बाद लिया जाएगा। एनसीपी से हमारी बात जारी है। एक बार सहमति बन जाए तो हम इसे आगे लेकर जाएंगे।’ इससे पहले महाराष्ट्र के कांग्रेस अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने कहा था कि कोई नेता दिल्ली से नहीं आ रहे हैं।

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर एनसीपी—कांग्रेस और शिवसेना के बीच बातचीत जारी है लेकिन सरकार बनाने की तस्वीर स्पष्ट नहीं हो पा रही है। सीएम पद के लिए शिवसेना ने बीजेपी से अपनी 30 वर्ष पुरानी दोस्ती तोड़ दी है। इसके बावजूद भी वह सरकार नहीं बना सकी है। अब राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) को दिया है। जिसे 24 घंटे में सरकार बनाने के लिए समर्थन पत्र सौंपना होगा। सियासी समीकरण में एनसीपी और शिवसेना में काफी हद तक सरकार गठन के लिए सहमति बनती दिखी है, लेकिन आखिरी पेंच अब कांग्रेस के समर्थन पर अटका है। क्योंकि संजय निरुपम जैसे नेता शिवसेना के साथ सरकार बनाने के पक्ष में नहीं है। उधर, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अहमद पटेल आज शाम तक मुंबई जाएंगे। जहां वह एनसीपी नेताओं से बात करेंगे। मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, 'एनसीपी और कांग्रेस में चुनाव पूर्व गठबंधन है और आखिरी फैसला सामूहिक बातचीत के बाद लिया जाएगा। एनसीपी से हमारी बात जारी है। एक बार सहमति बन जाए तो हम इसे आगे लेकर जाएंगे।' इससे पहले महाराष्ट्र के कांग्रेस अध्यक्ष माणिकराव ठाकरे ने कहा था कि कोई नेता दिल्ली से नहीं आ रहे हैं।