1. हिन्दी समाचार
  2. महाराष्ट्र: संजय राउत का बयान-शिवसेना का ही होगा CM, 170 विधायकों का है समर्थन

महाराष्ट्र: संजय राउत का बयान-शिवसेना का ही होगा CM, 170 विधायकों का है समर्थन

Maharashtra Sanjay Rauts Statement Shiv Sena Will Be The Cm 170 Mlas Support

मुंबई। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के नतीजे 23 अक्टूबर को आ गये थे, बीजेपी और शिवसेना गठबन्धन को पूर्ण बहुमत भी मिल गया था लेकिन सीएम की कुर्सी का पेंच ऐसा फंसा कि दोनो पार्टियां आमने सामने खड़ी हो गयीं। शिवसेना किसी भी हालत में 50 50 फार्मुले में सहमति के बिना भाजपा के साथ मिलकर सरकार नही बनाना चाहती वहीं बीजेपी ​हर हालत में अपना ही सीएम बनाने पर अंड़ी है। वहीं ​आज शिवसेना के नेता संजय राउत का बड़ा बयान आया है, उन्होने दावा किया है कि शिवसेना का ही सीएम बनेगा, शिवसेना के पास 170 विधायकों का सर्मथन है।

पढ़ें :- यूपी को सौगातः पीएम बोले-प्रधानमंत्री आवास योजना से बदलेगी गांवों की तस्वीर, गरीबों को घर देना हमारा लक्ष्य

खींचातानी के बाद संजय राउत का बड़ा दावा करना ये साफ संकेत दे रहा है कि ​अब शिवसेना किसी भी हालत में सीएम की कुर्सी नही छोड़ने वाली है। संजय राउत ने यह भी दावा किया है कि विधायको के समर्थन की संख्या अभी तक 170 है, आगे चलकर ये संख्या 175 भी हो सकती हैं। इस दौरान शिवसेना ने यह भी कहा कि भले ही बीजेपी वाले अपना मुख्यमंत्री बनाने के लिए रेस कोर्स और वानखेड़े स्टेडियम बुक करें लेकिन महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा।

संजय राउत ने इस दौरान एनसीपी प्रमुख शरद पवार की जमकर तारीफ भी की साथ ही उनसे हुई मुलाकात को भी सही ठहराया है। आपको बता दें कि महाराष्ट्र में शिवसेना के 56 विधायक हैं, कांग्रेस के 44 और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के 54 विधायक हैं, वहीं बात निर्दलीय विधायकों की करें तो इनकी भी संख्या एक दर्जन से अधिक है। अगर इन सबको मिला देते हैं तो ये संख्या 170 के करीब पंहुच जाती है। संजय राउत ने 170 विधायकों के समर्थन का ही दावा किया है।

संजय राउत के बयान के तुरन्त बाद एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक का भी बड़ा बयान आ गया। उन्होने कहा ​है कि अगर शिवसेना कहती है कि उनका मुख्यमंत्री बनेगा तो यह बिल्कुल मुमकिन है। उनका कहना है कि पहले शिवसेना अपनी भूमिका स्पष्ट करे उसके बाद एनसीपी भी अपनी भूूमिका बता देगी। फिल्हाल अभी एनसीपी को विपक्ष में बैठने के लिए जनमत मिला है तो एनसीपी उसके लिए तैयार है। वहीं शिवसेना ने सामना अखबार में एकबार फिर बीजेपी पर कई आरोप लगाये हैं।

पढ़ें :- किसान आंदोलनः सरकार और किसान संगठनों के बीच आज होगी 10वें दौरे की वार्ता

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...