जल्द लाएंगे बच्चियों से यौनशोषण करने वालों के लिए मौत की सजा वाला कानून: महबूबा मुफ्ती

mahbooba mufti cm-j-k
जल्द लाएंगे बच्चियों से यौनशोषण करने वालों के लिए मौत की सजा वाला कानून: महबूबा मुफ्ती
जम्मू। कठुआ में आठ साल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुराचार हत्या के मामले मे मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय से फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने की अपील की है। ऐसा उन्होने कठुआ मामले में जल्द फैसला आने के लिए किया है। उनके मुताबिक अगर ऐसा हो जाता है कि इस मामले की सुनवाई 90 दिनों में पूरी हो जाएगी। यही नही ये राज्य में इस तरह की पहली अदालत भी होगी। उन्होने कहा कि सरकार…

जम्मू। कठुआ में आठ साल की मासूम बच्ची के साथ हुए दुराचार हत्या के मामले मे मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय से फास्ट ट्रैक कोर्ट गठित करने की अपील की है। ऐसा उन्होने कठुआ मामले में जल्द फैसला आने के लिए किया है। उनके मुताबिक अगर ऐसा हो जाता है कि इस मामले की सुनवाई 90 दिनों में पूरी हो जाएगी। यही नही ये राज्य में इस तरह की पहली अदालत भी होगी। उन्होने कहा कि सरकार इस मामले में दोषी पुलिसकर्मियों को बर्खास्त करने की तैयारी में है।

बता दें कि इस मामले की कोर्ट में लगाई गई चार्जशीट के मुताबिक स्पेशल पुलिस ऑफिसर दीपक खजुरिया समेत सुरेंदर वर्मा, हेड कॉन्स्टेबल तिलक राज और सब इंस्पेक्टर आनंद दत्ता की भूमिका इस मामले में संदिग्ध है। उन्होने आगे कहा कि सरकार बच्चियों के साथ हो रहे यौन शोषण के मामलो को रोंकने के लिए पूरी तहर से प्रयासरत है। इसके साथ मुख्यंमत्री ने कहा कि इस तरह के अपराधों के लिए सरकार मौत की सजा वाला कानून लाने का भी काम करेगी। उन्होने कहा कि इस मामले में सरकार बच्ची को पूरी तरह से इंसाफ दिलाकर ही रहेगी।

{ यह भी पढ़ें:- कठुआ गैंगरेप मामला : सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू कश्मीर सरकार को दी नोटिस, कही ये बात }

उन्होंने कहा कि हम एक और बच्ची को इस तरह से पीड़ित नहीं होने देंगे। हम एक नया कानून लाएंगे जिसमें बच्चियों के साथ यौन शोषण करने वालों के लिए मौत की सजा अनिवार्य होगा ताकि इस मासूम बच्ची का मामला इस तरह का आखिरी मामला रह जाए। इसके बाद किसी दरिंदे की ऐसी घटना अंजाम देेने की हिम्मत न हो सके।

{ यह भी पढ़ें:- कठुआ मामला: भाजपा ने उठाई मीर को बर्खास्त करने की मांग }

Loading...