1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. मणिपुर में बड़ा हादसा: भूस्खलन में सेना के कई जवान मलबे में दबे, सात की गई जान, राहत और बचाव कार्य जारी

मणिपुर में बड़ा हादसा: भूस्खलन में सेना के कई जवान मलबे में दबे, सात की गई जान, राहत और बचाव कार्य जारी

मणिपुर (Manipur) में लगातार हो रही भारी बारिश से तबाही मची हुई है। भारी बारिश के कारण बुधवार रात भूस्खलन हुआ,​ जिसकी चपेट में आम लोगों के साथ ही टेरिटोरियल आर्मी के कई जवान आ गए। भूस्खलन के कारण चपेट में आए लोगों और टेरिटोरियल आर्मी के जवानों को बचाने का काम जारी है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

मणिपुर। मणिपुर (Manipur) में लगातार हो रही भारी बारिश से तबाही मची हुई है। भारी बारिश के कारण बुधवार रात भूस्खलन हुआ,​ जिसकी चपेट में आम लोगों के साथ ही टेरिटोरियल आर्मी के कई जवान आ गए। भूस्खलन के कारण चपेट में आए लोगों और टेरिटोरियल आर्मी के जवानों को बचाने का काम जारी है।

पढ़ें :- Manipur Landslide:मणिपुर लैंडस्लाइड में 18 जवानों समेत 24 की अभी तक मौत, सर्च अभियान जारी

मीडिया रिपोर्ट की माने तो ये घटना तुपुल रेलवे स्टेशन के पास हुई है। बताया जा रहा है कि भूस्खलन की चपेट में आने वाले सात लोगों के शव को बरामद कर लिया गया है। जबकि 45 से अधिक लोग मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है। मीडिया रिपोर्ट की माने तो भूस्खलन की चपेट में आने वाले 19 लोगों की जान बचाई जा चुकी है। इसके साथ ही राहत और बचाव का कार्य जारी है।

नोनी के डिप्टी कमिश्नर द्वारा जारी एक एडवाइजरी में कहा गया है कि टुपुल यार्ड रेलवे निर्माण शिविर में हुए दुर्भाग्यपूर्ण भूस्खलन के कारण 50 से अधिक लोग मलबे के अंदर दब गए हैं जबकि दो लोगों के शव बरामद हुए हैं। इजेई नदी का प्रवाह भी मलबे से बाधित हो गया है, भंडारण की स्थिति अगर भंग हुई तो नोनी जिला मुख्यालय के निचले इलाकों में कहर बरपाएगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...