अमेरिका में कुत्ते और बिल्ली को हराकर लिंकन बकरा बना मेयर

goat
अमेरिका में कुत्ते और बिल्ली को हराकर लिंकन बकरा बना मेयर

नई दिल्ली। अमेरिका के वरमोंट कस्बे में इंसान नहीं बल्कि एक बकरे को मेयर के तौर पर चुना गया है। 2500 लोगों की आबादी वाले कस्बे को उम्मीद है कि तीन साल की बकरी उनके लिए काम करेगी। बीते मंगलवार संपन्न हुए चुनाव में लिंकन नाम की बकरी ने 16 अन्य जानवरों को हरा कर जीत दर्ज की है। इस चुनाव में कुत्ते और बिल्लियां भी मैदान में थे।

Male Goat Became Mayor After Defeating Dog And Cat In A Town Election In America :

लिंकन नाम का यह बकरा राजनीति  के क्षेत्र में भले ही नौसिखिया हो, लेकिन उसके चुनाव की दास्तान बहुत दिलचस्प है। फेयर हेवन गांव के प्रमुख अधिकारी को उम्मीद है कि तीन साल के इस जानवर का चुनाव लोकतंत्र में एक सबक के तौर पर काम कर सकता है। मंगलवार को हुए चुनावों में लिंकन ने 15 अन्य प्रत्याशियों को हरा कर यह जीत हासिल की है।

इन प्रत्याशियों में कुत्ते, बिल्लियां समेत विभिन्न प्रजातियों के पशु शामिल थे। करीब 2,500 लोगों की आबादी वाले फेयर हेवन में कोई आधिकारिक मेयर नहीं है, लेकिन कस्बा प्रबंधक जोसेफ गुंटेर महापौर वाले सभी कार्य संभालते हैं। गुंटेर ने जब एक अखबार में पढ़ा कि मिशिगन के ओमेना गांव ने एक बिल्ली को अपना ‘शीर्ष’ अधिकारी चुना है तो उन्हें खेल के मैदान के लिए चंदा इकट्ठा करने के मकसद से इसी तरह का चुनाव आयोजित कराने का विचार आया।

लिंकन ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी सैमी नाम के एक कुत्ते को हरा कर यह जीत अपने नाम की। खेल के मैदान के लिए चंदा जुटाने के इस प्रयास में केवल 100 डॉलर ही एकत्रित हो पाए लेकिन गुंटेर इससे मायूस नहीं हैं। उनका मानना है कि यह चुनाव “ स्थानीय सरकार में बच्चों की दिलचस्पी पैदा करने का अच्छा तरीका है।”

नई दिल्ली। अमेरिका के वरमोंट कस्बे में इंसान नहीं बल्कि एक बकरे को मेयर के तौर पर चुना गया है। 2500 लोगों की आबादी वाले कस्बे को उम्मीद है कि तीन साल की बकरी उनके लिए काम करेगी। बीते मंगलवार संपन्न हुए चुनाव में लिंकन नाम की बकरी ने 16 अन्य जानवरों को हरा कर जीत दर्ज की है। इस चुनाव में कुत्ते और बिल्लियां भी मैदान में थे।

लिंकन नाम का यह बकरा राजनीति  के क्षेत्र में भले ही नौसिखिया हो, लेकिन उसके चुनाव की दास्तान बहुत दिलचस्प है। फेयर हेवन गांव के प्रमुख अधिकारी को उम्मीद है कि तीन साल के इस जानवर का चुनाव लोकतंत्र में एक सबक के तौर पर काम कर सकता है। मंगलवार को हुए चुनावों में लिंकन ने 15 अन्य प्रत्याशियों को हरा कर यह जीत हासिल की है।

इन प्रत्याशियों में कुत्ते, बिल्लियां समेत विभिन्न प्रजातियों के पशु शामिल थे। करीब 2,500 लोगों की आबादी वाले फेयर हेवन में कोई आधिकारिक मेयर नहीं है, लेकिन कस्बा प्रबंधक जोसेफ गुंटेर महापौर वाले सभी कार्य संभालते हैं। गुंटेर ने जब एक अखबार में पढ़ा कि मिशिगन के ओमेना गांव ने एक बिल्ली को अपना 'शीर्ष' अधिकारी चुना है तो उन्हें खेल के मैदान के लिए चंदा इकट्ठा करने के मकसद से इसी तरह का चुनाव आयोजित कराने का विचार आया।

लिंकन ने अपने करीबी प्रतिद्वंद्वी सैमी नाम के एक कुत्ते को हरा कर यह जीत अपने नाम की। खेल के मैदान के लिए चंदा जुटाने के इस प्रयास में केवल 100 डॉलर ही एकत्रित हो पाए लेकिन गुंटेर इससे मायूस नहीं हैं। उनका मानना है कि यह चुनाव “ स्थानीय सरकार में बच्चों की दिलचस्पी पैदा करने का अच्छा तरीका है।”