तापस पॉल की मौत पर ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार को ठहराया जिम्मेदार, कहा-CBI के दवाब के कारण आया था हार्ट अटैक

mamta
बंगाल मेंं अम्फान से लगा दोेहरा झटका, ममता ने रेलवे से कहा- 26 मई तक श्रमिक स्पेशल ट्रेनें न भेजें

कोलकता। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। तृणमूल कांग्रेस नेता एवं अभिनेता तापस पॉल की मौत के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उनका कहना है कि केंद्रीय एजेंसियों द्वारा बनाये गए दबाव के कारण तापस पॉल को दिल का दौरा पड़ा था।

Mamta Banerjee Blamed Central Government On Tapas Pauls Death Said Cbi Pressure Came Due To Heart Attack :

बता दें कि 61 वर्षीय तापस पॉल का मंगलवार को मुंबई के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था। डॉक्टरों के मुताबिक, उन्हें कार्डिएक अरेस्ट (दिल का दौरा) आया था। टीएमसी के पूर्व सांसद तापस पाल रोज़ वैल चिटफंड घोटाला मामले में आरोपी थे। करीब एक साल तक उन्हें जेल में भी रहना पड़ा था।

तापस पॉल को श्रद्धांजलि देते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के एक और नेता सुल्तान अहमद की मौत भी दिल का दौरा पड़ने से हुई थी। ममता के अनुसार, वह 2017 नरादा टैप्स घोटाला मामले में आरोपी बताए जाने के बाद से तनाव में थे। कोलकाता के रबिन्द्र सदन में ममता ने पत्रकारों से कहा, ‘तापस पॉल पर केंद्रीय एजेंसियों का गहरा दबाव था और वह केन्द्र की प्रतिशोध की राजनीति के शिकार हुए।’

पॉल का पार्थिव शरीर रबिन्द्र सदन में रखा गया है ताकि लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकें। केंद्रीय एजेंसियों पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि लोगों को जेल हो रही है लेकिन केंद्रीय एजेंसियां यह साबित नहीं कर पा रहीं हैं कि उन लोगों ने क्या अपराध किया है?

कोलकता। पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। तृणमूल कांग्रेस नेता एवं अभिनेता तापस पॉल की मौत के लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। उनका कहना है कि केंद्रीय एजेंसियों द्वारा बनाये गए दबाव के कारण तापस पॉल को दिल का दौरा पड़ा था। बता दें कि 61 वर्षीय तापस पॉल का मंगलवार को मुंबई के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया था। डॉक्टरों के मुताबिक, उन्हें कार्डिएक अरेस्ट (दिल का दौरा) आया था। टीएमसी के पूर्व सांसद तापस पाल रोज़ वैल चिटफंड घोटाला मामले में आरोपी थे। करीब एक साल तक उन्हें जेल में भी रहना पड़ा था। तापस पॉल को श्रद्धांजलि देते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस के एक और नेता सुल्तान अहमद की मौत भी दिल का दौरा पड़ने से हुई थी। ममता के अनुसार, वह 2017 नरादा टैप्स घोटाला मामले में आरोपी बताए जाने के बाद से तनाव में थे। कोलकाता के रबिन्द्र सदन में ममता ने पत्रकारों से कहा, ‘तापस पॉल पर केंद्रीय एजेंसियों का गहरा दबाव था और वह केन्द्र की प्रतिशोध की राजनीति के शिकार हुए।’ पॉल का पार्थिव शरीर रबिन्द्र सदन में रखा गया है ताकि लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकें। केंद्रीय एजेंसियों पर निशाना साधते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि लोगों को जेल हो रही है लेकिन केंद्रीय एजेंसियां यह साबित नहीं कर पा रहीं हैं कि उन लोगों ने क्या अपराध किया है?