प. बंगाल: सीबीआई की कार्रवाई से नाराज TMC ​का विरोध जारी, अभी भी धरने पर ममता

mamta banerji
प. बंगाल: सीबीआई की कार्रवाई से नाराज TMC ​का विरोध जारी, अभी भी धरने पर ममता

नई दिल्ली। चिटफंड घोटालों में कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से पूछताछ करने के लिए पहुंची सीबीआई टीम के बाद नाराज से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्र सरकार के बीच जबर्दस्त टकराव की स्थिति पैदा हो गई है। ममता बनर्जी का कहना है कि केन्द्र की मोदी सरकार ‘संविधान और संघीय ढांचे की भावना का गला घोंट रही है। वहीं ममता के इस विरोध कांग्रेस समेत तमाम अन्य पार्टियों ने भी समर्थन कर दिया है।

Mamta Banerjee Protest Against Cbi And Central Governmentin West Bengal :

बता दें कि पश्चिम बंगाल के मेट्रो सिनेमा के सामने भूरे रंग की ऊनी शॉल ओढ़ कर धरने पर बैठीं ममता और मोदी सरकार के बीच यह बवाल तब शुरु हुआ जब राजीव कुमार से पूछताछ के मकसद से उनके आवास पर गई सीबीआई अधिकारियों की टीम पहुंची। वहां तैनात संतरियों-कर्मियों ने उन्हे अंदर जाने से रोक दिया। जिसके बाद पुलिस ने सीबीआई के अधिकारियो को हिरासत में ले लिया।

बताया जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा विरोधी गठबंधन बनाने के प्रयासों में अग्रणी भूमिका निभा रहीं ममता का कहना है कि सीबीआई बगैर तलाशी वॉरंट के ही पुलिस आयुक्त के घर पहुंच गई थी। ममता ने आरोप लगाया कि वे हर उस राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं, जहां विपक्षी पार्टियां सत्ता में हैं। फिलहाल ममता बनर्जी धरना अभी भी जारी है, जिन्हे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का भी समर्थन मिला है।

नई दिल्ली। चिटफंड घोटालों में कोलकाता के पुलिस आयुक्त राजीव कुमार से पूछताछ करने के लिए पहुंची सीबीआई टीम के बाद नाराज से पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और केंद्र सरकार के बीच जबर्दस्त टकराव की स्थिति पैदा हो गई है। ममता बनर्जी का कहना है कि केन्द्र की मोदी सरकार 'संविधान और संघीय ढांचे की भावना का गला घोंट रही है। वहीं ममता के इस विरोध कांग्रेस समेत तमाम अन्य पार्टियों ने भी समर्थन कर दिया है। बता दें कि पश्चिम बंगाल के मेट्रो सिनेमा के सामने भूरे रंग की ऊनी शॉल ओढ़ कर धरने पर बैठीं ममता और मोदी सरकार के बीच यह बवाल तब शुरु हुआ जब राजीव कुमार से पूछताछ के मकसद से उनके आवास पर गई सीबीआई अधिकारियों की टीम पहुंची। वहां तैनात संतरियों-कर्मियों ने उन्हे अंदर जाने से रोक दिया। जिसके बाद पुलिस ने सीबीआई के अधिकारियो को हिरासत में ले लिया। बताया जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनावों से पहले भाजपा विरोधी गठबंधन बनाने के प्रयासों में अग्रणी भूमिका निभा रहीं ममता का कहना है कि सीबीआई बगैर तलाशी वॉरंट के ही पुलिस आयुक्त के घर पहुंच गई थी। ममता ने आरोप लगाया कि वे हर उस राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाना चाहते हैं, जहां विपक्षी पार्टियां सत्ता में हैं। फिलहाल ममता बनर्जी धरना अभी भी जारी है, जिन्हे पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों का भी समर्थन मिला है।