Blackmailing: दोस्त की पत्नी का बनाया अश्लील वीडियो किया ब्लैकमेल, वीडियो किया वॉयरल

b

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के महानगर में व्यवसायी ने दोस्त की गैर मौजूदगी में उसकी पत्नी को नशीली चाय पिलाकर बेहोश किया। अश्लील वीडियो दिखाकर आरोपित व उसका साथी ब्लैकमेल करने लगे। शर्त न मानने पर वीडियो वॉयरल करने की धमकी दी। पत्नी की आपबीती सुनकर पति ने व्यवसायी संबंध आरोपित से खत्म किये। इसके बाद आरोपितों ने पीडि़ता का नम्बर व अश्लील वीडियो वॉयरल कर दिया। परेशान दम्पत्ति शिकायत लेकर महानगर कोतवाली पहुंचे। पुलिस ने शिकायत पर पड़ोसी महिला पर साजिश का आरोप लगाते हुए चार के खिलाफ एससी,एसटी, साजिश, धमकी व आईटी एक्ट समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

Man Blackmailed Friend Wife In Lucknow Police Registers Fir :

महानगर के निशातगंज में एक कारोबारी की पत्नी अपने परिवार के साथ रहती है। पति के व्यवसायिक संबंध कल्याणपुर निवासी मुंगेश शर्मा से थे। जिसके चलते मुंगेश का घर पर आना.जाना था। पीडि़ता ने बताया कि फरवरी 2017 में वह घर पर अकेली थी। इसी बीच मुंगेश शर्मा आए। पति के व्यवसायिक मित्र को देख उसने दो कप चाय रखी और फिर नमकीन लेने किचन में चली गयी। नमकीन लाने के बाद दोनों ने चाय पीए जिससे पीडि़ता बेहोश हो गयी।

कुछ देर बाद आंख खुली तो कपड़े अस्त.व्यस्त थे और मुंगेश शर्मा वहां नहीं थे। यह बात उन्होंने पति को बतायी थी। अक्टूबर 2017 में मुंगेश पति की अनुपस्थिति में घर पहुंचे और उसका एक अश्लील वीडियो दिखाया। यह देख पीडि़ता के पैरों तले जमीन खिसक गयी। पीडि़ता का कहना है कि उन्होंने क्लीप डिलीट करने की मांग की। इस पर मुंगेश ने कहा वह जैसा कहे करो तभी वीडियो देंगे वरना वीडियो वॉयरल कर देंगे।

बदनामी के भय से पीडि़ता उनके साथ घर से बाहर निकली तो कार में एक युवक बैठा था। मुंगेश ने अंजान का नाम विवेक शुक्ला बताया और कहा कि वीडियो इसी के पास है। पीडि़ता के वीडियो मांगने पर विवेक ने एक ऐसी ओछी शर्त रखीए जिसे उसने मानने से इंकार कर दिया।

आरोपितों ने पति को फंसाने की धमकी दी लेकिन वह नहीं झुकी। पीडि़ता का कहना है कि विवेक ने अपना नम्बर दिया। कहा कि सोच.समझकर पति की अनुपस्थिति में बुलानाए तब फोटो देंगे। पति से बात करने के बाद 25 नवम्बर को पीडि़ता ने विवेक को बुलाया। वह आया और कहा कि वीडियो लाना भूल गयाए बाद में दूंगा। 2 दिसम्बर को फिर से बुलाया लेकिन फिर से वीडियो नहीं दिया।

परेशान होकर पीडि़ता ने उसके सारे नम्बर ब्लॉक कर दिया। इस पर विवेक अंजान नम्बरों से कॉल कर धमकाने लगा और उसका नम्बर दोस्तों को बांट दिया।

दम्पत्ति को मई 2018 में पीडि़ता का एक पोर्न साइट पर वीडियो मिला। पीडि़ता ने वीडियो डाउनलोड किया तो उसके पीछे एक मोबाइल नम्बर आया। उक्त नम्बर पर कॉल की तो विवेक शुक्ला उर्फ फारुक मलिक ने उठाया लेकिन आवाज पहचानकर काट दिया। पीडि़ता का कहना है कि आरोपितों की करतूत में उसके दो पड़ोसी भी शामिल हैं जिनमें एक महिला है। इंस्पेक्टर शिवशंकर सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के महानगर में व्यवसायी ने दोस्त की गैर मौजूदगी में उसकी पत्नी को नशीली चाय पिलाकर बेहोश किया। अश्लील वीडियो दिखाकर आरोपित व उसका साथी ब्लैकमेल करने लगे। शर्त न मानने पर वीडियो वॉयरल करने की धमकी दी। पत्नी की आपबीती सुनकर पति ने व्यवसायी संबंध आरोपित से खत्म किये। इसके बाद आरोपितों ने पीडि़ता का नम्बर व अश्लील वीडियो वॉयरल कर दिया। परेशान दम्पत्ति शिकायत लेकर महानगर कोतवाली पहुंचे। पुलिस ने शिकायत पर पड़ोसी महिला पर साजिश का आरोप लगाते हुए चार के खिलाफ एससी,एसटी, साजिश, धमकी व आईटी एक्ट समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली है।महानगर के निशातगंज में एक कारोबारी की पत्नी अपने परिवार के साथ रहती है। पति के व्यवसायिक संबंध कल्याणपुर निवासी मुंगेश शर्मा से थे। जिसके चलते मुंगेश का घर पर आना.जाना था। पीडि़ता ने बताया कि फरवरी 2017 में वह घर पर अकेली थी। इसी बीच मुंगेश शर्मा आए। पति के व्यवसायिक मित्र को देख उसने दो कप चाय रखी और फिर नमकीन लेने किचन में चली गयी। नमकीन लाने के बाद दोनों ने चाय पीए जिससे पीडि़ता बेहोश हो गयी।कुछ देर बाद आंख खुली तो कपड़े अस्त.व्यस्त थे और मुंगेश शर्मा वहां नहीं थे। यह बात उन्होंने पति को बतायी थी। अक्टूबर 2017 में मुंगेश पति की अनुपस्थिति में घर पहुंचे और उसका एक अश्लील वीडियो दिखाया। यह देख पीडि़ता के पैरों तले जमीन खिसक गयी। पीडि़ता का कहना है कि उन्होंने क्लीप डिलीट करने की मांग की। इस पर मुंगेश ने कहा वह जैसा कहे करो तभी वीडियो देंगे वरना वीडियो वॉयरल कर देंगे।बदनामी के भय से पीडि़ता उनके साथ घर से बाहर निकली तो कार में एक युवक बैठा था। मुंगेश ने अंजान का नाम विवेक शुक्ला बताया और कहा कि वीडियो इसी के पास है। पीडि़ता के वीडियो मांगने पर विवेक ने एक ऐसी ओछी शर्त रखीए जिसे उसने मानने से इंकार कर दिया।आरोपितों ने पति को फंसाने की धमकी दी लेकिन वह नहीं झुकी। पीडि़ता का कहना है कि विवेक ने अपना नम्बर दिया। कहा कि सोच.समझकर पति की अनुपस्थिति में बुलानाए तब फोटो देंगे। पति से बात करने के बाद 25 नवम्बर को पीडि़ता ने विवेक को बुलाया। वह आया और कहा कि वीडियो लाना भूल गयाए बाद में दूंगा। 2 दिसम्बर को फिर से बुलाया लेकिन फिर से वीडियो नहीं दिया।परेशान होकर पीडि़ता ने उसके सारे नम्बर ब्लॉक कर दिया। इस पर विवेक अंजान नम्बरों से कॉल कर धमकाने लगा और उसका नम्बर दोस्तों को बांट दिया।दम्पत्ति को मई 2018 में पीडि़ता का एक पोर्न साइट पर वीडियो मिला। पीडि़ता ने वीडियो डाउनलोड किया तो उसके पीछे एक मोबाइल नम्बर आया। उक्त नम्बर पर कॉल की तो विवेक शुक्ला उर्फ फारुक मलिक ने उठाया लेकिन आवाज पहचानकर काट दिया। पीडि़ता का कहना है कि आरोपितों की करतूत में उसके दो पड़ोसी भी शामिल हैं जिनमें एक महिला है। इंस्पेक्टर शिवशंकर सिंह का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है।