पार्षद के बेटे को दबंगों ने पीट—पीट कर हत्या, नाराज परिजनों ने किया प्रदर्शन

barabanki murder
पार्षद के बेटे को दबंगों ने पीट—पीट कर हत्या, नाराज परिजनों ने किया प्रदर्शन
बाराबंकी। बाराबंकी के हैदरगढ़ में गुरुवार शाम दबंगों ने पार्षद के बेटे की पीट—पीट कर हत्या कर दी। उन लोगों के बीच चुनावी रंजिश चल रही थी, जिसको लेकर कई बार कहासुनी भी हो चुकी थी। बताया जाता है कि पार्षद पुत्र कही जा रहा था, तभी दबंगों ने उसे रोंक लिया और लाठी—डंडो से जमकर पिटाई कर दी। जिसे युवक लहुलूहान होकर वही गिर पड़ा। घटना की भनक उसके परिजनों को मिली तो वो भागकर घटनास्थल पर पहुंचे और…

बाराबंकी। बाराबंकी के हैदरगढ़ में गुरुवार शाम दबंगों ने पार्षद के बेटे की पीट—पीट कर हत्या कर दी। उन लोगों के बीच चुनावी रंजिश चल रही थी, जिसको लेकर कई बार कहासुनी भी हो चुकी थी। बताया जाता है कि पार्षद पुत्र कही जा रहा था, तभी दबंगों ने उसे रोंक लिया और लाठी—डंडो से जमकर पिटाई कर दी। जिसे युवक लहुलूहान होकर वही गिर पड़ा।
घटना की भनक उसके परिजनों को मिली तो वो भागकर घटनास्थल पर पहुंचे और गंभीर रूप से घायल युवक को आनन—फानन में अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

इसके बाद नाराज परिजनों ने युवक को शव सड़क पर रखकर जमकर प्रदर्शन किया। नाराज लोग इंस्पेक्टर हैदरगढ़ को हटाने के साथ ही मुआवजे की मांग कर रहे थे। फिलहाल मौके पर पहुंचे पुलिस के आलाधिकारियों ने किसी तरह लोगों को शांत कराया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा।​​ फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर तीन लोगों को हिरासत में ले लिया है।

{ यह भी पढ़ें:- बाराबंकी में युवती को अगवा कर गैंगरेप, आरोपितों को बचाने में जुटी पुलिस }

बता दें कि ये घटना हैदरगढ़ कोतवाली के कोठी वार्ड की है। यहां के सभासद रामगोपाल यादव का बेटा दुर्गेश यादव(25) का चुनावी रंजिश को लेकर क्षेत्र के ही कुछ लोगों से विवाद चल रहा था। गुरुवार शाम वो किसी काम से घर से निकला था, तभी आरोपी पक्ष के लोगों ने उसे घेर लिया और फिर लाठी—डंडों से पीटकर उसे मरणासन्न कर दिया। स्थानीय लोग उसे बचाने दौड़े तो दबंग वहां से भाग निकले। इसकी जानकारी रामगोपाल यादव को मिली तो वो मौके पर पहुंचे और दुर्गेश को अस्पतान पहुंचाया,जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इससे नाराज परिजनों ने उसका शव हाईवे पर रखकर प्रदर्शन शुरु कर दिया। हालाकि अधिकारियों ने उन्हे आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर किसी तरह शांत कराया। फिलहाल पुलिस ने रामगोपाल की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में तीन लोगों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है।

{ यह भी पढ़ें:- सीतापुर के बाद अब 'बाराबंकी' में कुत्तों का आतंक, बुजुर्गु को नोंच डाला, सहमे ग्रामीण }

Loading...