शर्मनाक, बच्ची पैदा हुई तो पत्नी को अस्पताल में छोड़कर भागा युवक

मुरादाबाद| उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के जिला अस्पताल में एक महिला ने प्रसव के दौरान जैसे ही एक बच्ची को जन्म दिया, वैसे ही उसका पति उसे छोड़ कर भाग गया। वह एक बेटे की चाहत लिए अस्पताल पहुंचा था। उसकी पहले से दो बेटियां हैं। अस्पताल में बच्ची की नानी उसकी देखरेख कर रही हैं। बच्ची की नानी ने इस संबंध में सिविल लाइन थाने में मदद के लिए शिकायती पत्र दिया है।




13 अप्रैल को बिजनौर की इस महिला को प्रसव पीड़ा के बाद मुरादाबाद के जिला अस्पताल में उसके पति ने भर्ती कराया था। उसी दिन दोपहर में महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया। लड़की पैदा होने की सूचना जैसे ही उसके पति को मिली, वह अपनी पत्नी और बच्ची को छोड़ कर भाग गया। उसने अपनी मासूम की सूरत तक नहीं देखी। मुरादाबाद के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के अगवानपुर की पीड़ित महिला की शादी 5 वर्ष पहले बिजनौर के सुरेंद्र के साथ हुई थी। एक वर्ष के बाद महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया तो सभी खुश थे। सब कुछ ठीक चल रहा था। लेकिन, सुरेंद्र को बेटे की चाह थी। जब उसके घर दूसरी बेटी हुई तो आरोप है कि वह पत्नी से मारपीट करने लगा। ससुराल के अन्य लोग भी प्रताड़ित करते थे। इस मामले को लेकर कई बार पंचायत बैठी लेकिन हालात नहीं सुधरे।

इस दौरान महिला फिर से गर्भवती हो गई। उसे इलाज के लिए मुरादाबाद के जिला अस्पताल में सुरेंद्र ने भर्ती करा दिया। लेकिन उसे जैसे ही सूचना मिली कि लड़की पैदा हुई है तो वह फौरन अपनी पत्नी और मासूम बच्ची को वहीं अस्पताल में छोड़ कर भाग गया। बच्ची की नानी ने कहा, “मेरी बेटी की जिंदगी तबाह हो गई। वो किस तरह अपना परिवार चलाएगी। बेटियों की जिम्मेदारी कैसे उठा सकेगी। उसका पति उसे छोड़ कर भाग गया है। ससुराल में भी लड़के की चाहत में मेरी बेटी को बहुत तंग किया जाता रहा है। भगवान लगातार बेटी ही दे रहे हैं तो उसमें मेरी बेटी का क्या ‘कसूर’ है।”




उन्होंने सिविल लाइन थाने में मदद की गुहार लगाई है। इस संबंध में शिकायती पत्र भी दिया है।पीड़ित महिला ने कहा कि वह चाहती है कि उसका पति वापस आकर हमें अपने साथ ले जाए। आंखों में आंसू लिए महिला ने कहा कि हम किसके सहारे जिंदगी काटेंगे। सीओ सिविल लाइंस यशवीर सिंह ने बताया कि इस मामले की जानकारी मिली है। सिविल लाइंस थाने में एक शिकायती पत्र आया है। बिजनौर से पीड़िता के पति को बुलाकर अपनी पत्नी को ले जाने के लिए कहा जाएगा। मामला संज्ञान में है, कार्रवाई की जा रही है।

Loading...